PM Modi ने 10 दिन में किया 7 राज्यों का दौरा, 100 से अधिक प्रोजेक्ट्स को दिखाई हरी झंडी

PM Modi visits seven states in 10 days : चुनाव नजदीक आते प्रधानमंत्री ने अपना देशव्यापी अभियान तेज कर दिया है। उन्होंने पिछले 10 दिन के दौरान 7 राज्यों का दौरा किया और 100 से अधिक परियोजनाओं का उद्घाटन या शिलान्यास किया। इनमें से कई उद्घाटन वीडियो लिंक द्वारा किए गए। आइए, जानते हैं कि 10 फरवरी से 19 फरवरी के बीच प्रधानमंत्री ने किन परियोजनाओं का उद्घाटन या शिलान्यास किया। 

 

Money Bhaskar

Feb 19,2019 03:48:00 PM IST

नई दिल्ली. चुनाव नजदीक आते प्रधानमंत्री ने अपना देशव्यापी अभियान तेज कर दिया है। उन्होंने पिछले 10 दिन के दौरान 7 राज्यों का दौरा किया और 100 से अधिक परियोजनाओं का उद्घाटन या शिलान्यास किया। इनमें से कई उद्घाटन वीडियो लिंक द्वारा किए गए। आइए, जानते हैं कि 10 फरवरी से 19 फरवरी के बीच प्रधानमंत्री ने किन परियोजनाओं का उद्घाटन या शिलान्यास किया।

10 फरवरी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कर्नाटक के हुबली पहुंचे। उन्होंने आईआईटी, धारवाड़ और भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्‍थान, धारवाड़ का एक पट्टिका का अनावरण कर शिलान्‍यास किया। उन्होंने धारवाड़ में सिटी गैस वितरण परियोजना का लोकार्पण किया। प्रधानमंत्री ने 1.5 एमएमटी क्षमता वाले मंगलोर एसपीआर और आईएसपीआरएल के 2.5 एमएमटी क्षमता वाले पडूर एसपीआर का लोकार्पण किया। और 18 किलोमीटर लंबी चिकजाजूर-मायाकोंडा रेलखण्ड के दोहरीकरण का लोकार्पण किया। यह रेलखण्ड 190 किलोमीटर लंबी हुबली-चिकजाजूर दोहरीकरण परियोजना का हिस्सा है और दक्षिण-पश्चिम रेलवे के बेंगलूरु-हुबली रेलमार्ग पर स्थित है।

12 फरवरी

प्रधानमंत्री ने कुरुक्षेत्र के झज्‍जर जिले के भडसा गांव में राष्‍ट्रीय कैंसर संस्‍थान का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने कुरुक्षेत्र में श्रीकृष्‍णा आयुष विश्‍वविद्यालय की आधारशिला रखी। प्रधानमंत्री ने पंडित दीनदयाल उपाध्‍याय स्‍वास्‍थ्‍य विश्‍वविद्यालय, करनाल, राष्‍ट्रीय आयुर्वेद संस्‍थान पंचकुला तथा फरीदाबाद में ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज और अस्‍पताल, पानीपत युद्ध संग्रहालय की आधारशिला रखी।

15 फरवरी

प्रधानमंत्री ने झांसी का दौरा किया। उन्होंने झांसी में रक्षा गलियारे का शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री ने बुन्देलखण्ड क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों के लिए पाइप युक्त जल योजना का शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री ने 425 किलोमीटर लंबी झांसी-माणिकपुर और भीमसेन-खैरवार रेल लाइन के दोहरीकरण और झांसी में कोच रिफर्बिशिंग वर्कशॉप का भी शिलान्यास किया।
उन्होंने वंदे भारत एक्सप्रेस का भी उद्घाटन किया। यह गाड़ी नई दिल्‍ली से कानपुर और इलाहाबाद होते हुए वाराणसी जाएगी। प्रधानमंत्री ने झांसी-खैरवार खंड के 297 किलोमीटर लंबे खण्ड के विद्युतीकरण का उद्घाटन किया।

16 फरवरी

प्रधानमंत्री महाराष्ट्र के यवतमाल का दौरा किया। उन्होंने बटन दबाकर 500 करोड़ रुपये मूल्‍य की एक सड़क परियोजना की आधारशिला रखी। उन्‍होंने वीडियो लिंक के जरिए हमसफर अजनी (नागपुर)-पुणे ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
प्रधानमंत्री ने बटन दबाकर 500 करोड़ रुपये मूल्‍य की एक सड़क परियोजना की आधारशिला रखी। उन्‍होंने वीडियो लिंक के जरिए हमसफर अजनी (नागपुर)-पुणे ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

17 फरवरी

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने 17 फरवरी, 2019 को झारखंड के हजारीबाग का दौरा किया और हजारीबाग, दुमका और पलामू में मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन किया। इन नए मेडिकल कॉलेज के निर्माण पर 885 करोड़ रूपए की लागत आई है। इसके अलावा उन्होंने हजारीबाग, दुमका, पलामू और जमशेदपुर में 500 बिस्‍तरों वाले चार अस्‍पतालों की आधारशिला भी रखी। प्रधानमंत्री ने रामगढ़ और हजारीबाग जिले में ग्रामीण जल आपूर्ति के लिए चार योजनाओं का भी उद्घाटन किया और ग्रामीण जल आपूर्ति की छह अतिरिक्‍त योजनाओं की आधारशिला रखी। उन्‍होंने खासतौर पर कमजोर जनजातीय समूहों के आसपास जल आपूर्ति योजनाओं का भी शिलान्‍यास किया। उन्होंने हजारीबाग में शहरी जल आपूर्ति योजना का भी शिलान्‍यास किया। इस परियोजना की लागत 500 करोड़ रूपए है।
इसी दिन प्रधानमंत्री ने नमामि गंगे योजना के तहत साहेबगंज सीवरेज उपचार संयंत्र और मधुसूदन घाट का भी उद्घाटन किया और रामगढ़ में केवल महिला इंजीनियरिंग कॉलेज का इंटरनेट (ई-इनोग्रेशन) के माध्‍यम से उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने जनजातीय अध्‍ययन केंद्र, आचार्य विनोबा भावे विश्‍वविद्यालय, हजारीबाग की भी आधारशिला रखी। प्रधानमंत्री ने सरकारी स्‍कूलों के छात्रों के लिए कान्‍हा दुग्‍ध योजना की शुरूआत की।

बिहार में 33 हजार करोड़ के कार्य

17 फरवरी को ही प्रधानमंत्री ने बिहार के बरौनी में 33 हजार करोड़ रुपए की विकास परियोजनाओं का अनावरण किया। प्राधानमंत्री ने डिजिटल तरीके से 13,365 करोड़ रुपए की अनुमानित लागत से पटना मेट्रो रेल परियोजना की आधारशिला रखी। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर जगदीशपुर-वाराणसी प्राकृतिक गैस पाइप लाइन के फूलपुर से पटना विस्‍तार का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने पटना में रिवर फ्रंट डेवलपमेंट के पहले चरण का उद्घाटन किया। उन्‍होंने 96.54 किलोमीटर क्षेत्र में फैले करमालीचक सिवरेज नेटवर्क की आधारशिला भी रखी। प्रधानमंत्री ने बाढ, सुल्‍तानगंज और नौगछिया में सीवेज उपचार संयंत्रों से संबंधित कार्यों को भी आरंभ किया। उन्‍होंने विभिन्‍न स्‍थानों पर 22 अमृत परियोजनाओं के लिए भी आधारशिला रखी।

प्रधानमंत्री ने बरौनी रिफाइनरी विस्‍तार परियोजना के 9 एमएमटी एवीयू का शिलान्‍यास किया। उन्‍होंने दुर्गापुर से मुज्‍जफरपुर एवं पटना तक पारादीप-हल्दिया-दुर्गापुर एलपीजी पाइप लाइन के संवर्द्धन के लिए भी शिलान्‍यास किया। प्रधानमंत्री ने बरौनी रिफाइनरी में एटीएफ हाईड्रो ट्रीटिंग यूनिट (आईएनडीजेईटी) के लिए भी आधारशिला रखी। ये परियोजनाएं उल्‍लेखनीय रूप से नगर एवं क्षेत्र में ऊर्जा की उपलब्‍धता में वृद्धि करेंगी। साथ ही, प्रधानमंत्री ने बरौनी में अमोनिया-यूरिया-फर्टिलाइजर परिसर का भी शिलान्‍यास किया। प्रधानमंत्री ने बरौनी-कुमेदपुर, मुज्‍जफरपुर-रक्‍सौल, फतुहा-इस्‍लामपुर, बिहार शरीफ-दानियावान विद्युतीकरण का उद्घाटन किया। इस अवसर पर रांची-पटना एसी साप्‍ताहिक एक्‍सप्रेस रेलगाड़ी का भी उद्घाटन किया गया।

19 फरवरी
प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश के वाराणसी की यात्रा की। उन्‍होंने गुरु रविदास जन्‍म स्‍थान विकास परियोजना का शिलान्‍यास किया। उन्होंने वाराणसी में डीजल से विद्युत में परिवर्तित पहले इंजन को झंडी दिखाई।

X
COMMENT

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.