Home » Economy » PolicyHome loan interest after availing the benefits of pradhan mantri awas yojanaU

होम लोन पर सरकार दे रही है छूट, जानें क्या है नियम

मिडल इनकम ग्रुप को होम लोन के ब्याज पर 2.67 लाख रुपए का फायदा

1 of

नई दिल्ली। हर किसी का सपना होता है कि उसका अपना एक घर हो। लेकिन हर कोई घर खरीदने के अपने इस सपने को साकार नहीं कर पाता। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 17 जून 2015 को प्रधानमंत्री आवास योजना की घोषणा की थी। प्रधानमंत्री आवास योजना का मुख्य लक्ष्य मिडल इनकम ग्रुप की उन्नति करना और उनके आवास के सपने को साकार करना है । इस योजना के तहत अपना पहला घर खरीदने वाले लोग होम लोन पर ब्याज सब्सिडी का फायदा उठा सकते हैं। इसके तहत मिडल इनकम ग्रुप को होम लोन के ब्याज पर 2.67 लाख रुपए का फायदा मिल सकता है। 

6 लाख रुपए तक का लोन लेने पर 6.5 पर्सेंट तक ब्याज सब्सिडी का फायदा

इस योजना के अनुसार जिन लोगों की सालाना आमदनी 3 लाख रुपए है वह EWS (Economically Weaker Sections) के अंतर्गत आते हैं, जबकि जिन लोगों  की सालाना आमदनी  6 लाख रुपए तक है वह LIG (Low income group) के अंतर्गत आते हैं। इन दोनों ही कैटेगरी में 6 लाख रुपए तक का लोन लेने पर 6.5 पर्सेंट तक ब्याज सब्सिडी का फायदा उठाया जा सकता है। बाद में इसे बढ़ाकर 12 लाख से 18 लाख रुपये सालाना तक की आमदनी वाले लोगों तक भी कर दिया गया था। प्रधानमंत्री आावास योजना के तहत 6 लाख  रुपए तक की सालाना आमदनी पर 6 लाख रुपए का लोन लेने पर सरकार 6.5 पर्सेंट तक ब्याज सब्सिडी देती है, यानी घर खरीदने पर आपको 2.67 लाख का फायदा मिलता है। मोदी सरकार की क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS) योजना का लक्ष्य सभी को  2022  तक घर देना है। 

 

जबकि 6 लाख से 12 लाख रुपए तक सालाना आमदनी पर सरकार 4 पर्सेंट तक ब्याज सब्सिडी देती है, यानी आप 2.35 लाख रुपए का फायदा ले सकते है। वहीं 12 लाख से 18 लाख रुपए तक की सालाना आमदनी पर सरकार  3 पर्सेंट तक ब्याज सब्सिडी देती है इसमें उपभोक्ताओं को 2.30 लाख रुपए तक का फायदा मिलता है। अगर होम लोन पर ब्याज की दर 9 पर्सेंट है तो इस योजनी के तहत आपको सिर्फ 5 पर्सेंट ही चुकानी पड़ेगी। इस सीमा से अधिक लोन लेने पर बाकी रकम पर ब्याज सामान्य दर से चुकाना पड़ता है हर तरह के लोन के मामले में अधिकतम समय-सीमा 20 साल हो सकती है। 

 

आगे पढ़ें

इन जगहों से उठा सकते हैं इस योजना का लाभ
क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम को 31 मार्च 2019 तक बढ़ा दिया है। साल 2022 तक हाउसिंग फॉर आल के लक्ष्य को पाने के लिए सरकार ने इस योजना का लाभ लेने की अवधि बढ़ाई है। ग्राहक बैंक, हाउसिंग फाइनेंस कंपनी, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, स्माल फाइनेंस बैंक आदि जगहों से  इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। नेशनल हाउसिंग बैंक और हुडको भी इस योजना में शामिल हैं।

 

आगे पढ़ें कैसे लें CLSS और  EWS/LIG के लाभ

CLSS और  EWS/LIG के लाभ
CLSS और  EWS/LIG का लाभ उठाने के  लिए उपभोक्ताओं  के पास आधार कार्ड होना अनिवार्य है। इस योजना के तहत मिलने वाली सबसे अधिक सब्सिडी 2.67 लाख रुपए की है। 6 लाख रुपए तक की सालाना आय पर भी उपभोक्ता इस योजना का लाभ उठा सकते हैं भारत के किसी भी हिस्से में परिवार के पास पक्‍का घर नहीं होना चाहिए। यह संपत्ति संयुक्त रुप से या संपूर्ण रुप से परिवार की महिला प्रमुख के स्वामित्व में होगी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट