बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyबजट सत्र - इकोनॉमिक सर्वे आज, जीएसटी, एक्‍सपोर्ट, एग्रीकल्‍चर और जॉब पर दिखेगा सरकार का विजन

बजट सत्र - इकोनॉमिक सर्वे आज, जीएसटी, एक्‍सपोर्ट, एग्रीकल्‍चर और जॉब पर दिखेगा सरकार का विजन

मोदी सरकार आज 2017-18 के लिए इकोनॉमिक सर्वे पेश करेगी।

1 of

नई दिल्‍ली। संसद का बजट सत्र आज से शुरू हो गया  है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दोनों सदनों को संबोधित भी कर चुके हैं, जिसके बाद मोदी सरकार 2017-18 के लिए इकोनॉमिक सर्वे पेश करेगी। इकोनॉमिक सर्वे में सरकार इकोनॉमी से जुड़े अहम मुद्दों पर अपना विजन पेश करेगी। एक्‍सपर्ट्स का मानना है कि इकोनॉमिक सर्वे में जीएसटी, एक्‍सपोर्ट, एग्रीकल्‍चर और जॉब से जुड़ी चुनौतियों का समाधान करने के लिए जरूरी कदमों का उल्‍लेख हो सकता है। इकोनॉमिक सर्वे से पता चलेगा कि इकोनॉमी से जुड़ी चुनौतियों पर सरकार की राय क्‍या है। एक्‍सपर्ट्स का कहना है कि इकोनॉमिक सर्वे का आम बजट से कोई सीधा संबध नहीं होता है हालांकि ऐसा हो सकता है कि जो बात इकोनॉमिक सर्वे में कही जाए वजट में उसे जगह मिल जाए। 

 

Live Budget 2018 News - आम बजट 2018 से जुड़ी हर खबर

 

जीएसटी से जुड़े मुद्दे 

क्रिसिल के चीफ इकोनॉमिस्‍ट डीके जोशी ने moneybhaskar.com को बताया कि इकोनॉमिक सर्वे में जीएसटी से जुड़े मुद्दों को उठाया जा सकता है। जीएसटी का इम्‍पलीमेंटेशन इकोनॉमी के लिए बेहद अहम है। ऐसे में इस पर इकोनॉमिक सर्वे में सरकार को जरूरी कदमों के बारे में सुझाव आ सकता है। वहीं इकोनॉमिस्‍ट डॉ पई पनंदिकर का कहना है कि केंद्र सरकार ने हाल में जीएसटी में ईवे बिल नाम से नया सिस्‍टम लागू किया है। इस सिस्‍टम में खामियां हैं, जिसका फायदा उठा कर लोग टैक्‍स देने से बच सकते हैं। ऐसे में इकोनॉमिक सर्वे में इस कमी को दूर करने के लिए सुझाव दिया जा सकता है। 

 

एक्‍सपोर्ट 

डीके जोशी का कहना है कि पिछले काफी समय से एक्‍सपोर्ट ग्रोथ काफी सुस्‍त रही है। ऐसे में इकोनॉमिक सर्वे में एक्‍सपोर्ट ग्रोथ को बढ़ाने के लिए जरूरी कदमों के बारे में सुझाव दिया जा सकता है। पई पनंदिकर का भी कहना है कि एक्‍सपोर्ट सेक्‍टर इकोनॉमी के लिहाज से चैलेजिंग है। इसका सर्वे में उल्‍लेख किया जा सकता है। पिछले काफी समय से एक्‍सपोर्ट की ग्रोथ काफी स्‍लो रही है। दिसंबर 2017 में एक्‍सपोर्ट ग्रोथ 12.4 फीसदी रही। वहीं नवंबर में एक्‍सपोर्ट ग्रोथ 30.5 फीसदी थी। 

 

इकोनॉमिक सर्वे 2018 के पहले नई ऊंचाई पर बाजार, सेंसेक्स 300 अंक बढ़ा, निफ्टी 11,150 के करीब

 

एग्रीकल्‍चर 

मौजूदा समय में एग्रीकल्‍चर सेक्‍टर का प्रदर्शन काफी कमजोर है। किसानों को उनकी फसलों की सही कीमत नहीं मिल रही है। हाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने माना था कि एग्रीकल्‍चर सेक्‍टर खास कर किसानों की स्थिति खराब है इस पर केंद्र ओर राज्‍य सरकारों को मिल कर कारगर कदम उठाना चाहिए। डीके जोशी का कहना है कि एग्रीकल्‍चर सेक्‍टर के प्रदर्शन में सुधार के लिए इकोनॉमिक सर्वे में सुझाव दिए जा सकते हैं। पई पनिंदकर का भी कहना है कि इकोनॉमिक सर्वे में एग्रीकल्‍चर पर फोकस हो सकता है। वित्‍त वर्ष 2015-16 में एग्रीकल्‍चर ग्रोथ 0.7 फीसदी थी। हालांकि बेहतर मानसून की वजह से वित्‍त वर्ष 2016-17 में एग्रीकल्‍चर ग्रोथ बढ़ कर 4.9 फीसदी हो गई थी। बेहतर ग्रोथ रेट के बावजूद एग्रीकल्‍चर सेक्‍टर से जुड़े लोगों की हालत खराब है। नोटबंदी की वजह से इस सेक्‍टर को बाधाओं का सामना करना पड़ा है। 

 

नौकरियां 

 

मोदी सरकार के लगभग चार साल के कार्यकाल में युवाओं को नौकरियां बहुत कम मिलना एक बड़ा मुद्दा रहा है। इस मुद्दे पर सरकार की आलोचना भी हो रही है। लेबर ब्‍यूरो के आंकड़ों के अनुसार मोदी सरकार के पिछले तीन साल के कार्यकाल में नई नौकरियां 60 फीसदी तक कम हुईं हैं। डीके जोशी का कहना है कि युवाओं को जॉब मिलना भी एक अहम मुद्दा है। इकोनॉमिक सर्वे में इस पर सरकार को कुछ सुझाव दिए जा सकते हैं। पई पनिंदकर का कहना है कि इकोनॉमिक सर्वे में जॉब क्रिएशन से जुड़ी बाधाओं पर भी बात हो सकती है। 

 

नौ फरवरी तक चलेगा बजट सत्र 
बजट सत्र की शुरुआत राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद के भाषण से होगी। इसके बाद वि‍त्‍त मंत्री अरुण जेटली इकोनॉमि‍क सर्वे पेश करेंगे। बजट सत्र 9 फरवरी तक चलेगा, इसमें 1 फरवरी को बजट पेश होगा। सत्र के प्रथम भाग में कुल 8 बैठकें होंगी। 

 

Get Latest Update on Budget 2018 in Hindi

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट