Home » Economy » PolicyGDP of India : third largest economy

2030 तक दुनिया की तीसरी बड़ी इकोनॉमी बन सकता है भारत, 10 ट्रिलियन डॉलर GDP की उम्‍मीद

2.59 अरब ट्रिलियन डॉलर के GDP के साथ छठी सबसे बड़ी इकोनॉमी बन गया भारत

GDP of India : third largest economy

 

नई दिल्‍ली. आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने शनिवार को कहा कि देश की इकोनॉमी 'टेक ऑफ' के चरण पर है और 2030 तक 10 ट्रिलियन डॉलर GDP के साथ दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा, 'अच्छे दिन आगे आएंगे, क्‍योंकि इकोनॉमी के फ्रंट पर बहुत अच्छा काम हो रहा है। यही वजह है कि इकोनॉमी एक ऐसे चरण पर है जहां भारतीय गर्व कर सकते हैं।

 

8 फीसदी वृद्धि दर अचीव करनी होगी 
इंस्टिट्यूट ऑफ कॉस्‍ट अकाउंटेंट ऑफ इंडिया के प्‍लेटिनम जुबली कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गर्ग ने कहा कि आजादी के पहले 40 वर्षों में, देश में शायद ही कभी 3.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई और आज 7-8 फीसदी एक मानक बन गया है। 2030 तक हम 10 ट्रिलियन डॉलर वाली इकोनॉमी होने की उम्मीद कर सकते हैं। यह एक चुनौती भी है और अवसर भी है। गर्ग ने कहा कि आठ फीसदी की वृद्धि भी अचीव की जा सकती है और अगर हम ऐसा कर देते हैं तो हम 10 ट्रिलियन डॉलर वाली इकोनॉमी बन सकते हैं, जो दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी इकोनॉमी होगी। 

 

छठे स्‍थान पर पहुंचा भारत 
उनका यह कमेंट इसलिए भी महत्‍व रखता है कि हाल ही में वर्ल्‍ड बैंक के आंकड़ें बताते हैं कि भारत फ्रांस को पछाड़ कर छठी सबसे बड़ी इकोनॉमी के रूप में उभरा है।  आंकड़ों के मुताबिक, 2017 में, भारत 2.59 अरब ट्रिलियन डॉलर के GDP के साथ छठी सबसे बड़ी इकोनॉमी बन गया, जबकि फ्रांस सातवें स्थान पर रहा। 

 

डिजिटल इकोनॉमी में भी ग्रोथ 
गर्ग ने यह भी कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि 2022 तक भारतीय इकोनॉमी 1 ट्रिलियन डॉलर वाली डिजिटल इकोनॉमी होगी और 2030 तक डिजिटल इकोनॉमी कुल इकोनॉमी की आधी हो जाएगी। मार्च 2018 को समाप्त हुए तीन महीनों में देश की अर्थव्यवस्था 7.7 फीसदी की सात क्‍वार्टर के उच्चतम स्तर पर बढ़ी, जिससे सरकारी खर्च और निवेश में मदद मिली।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट