Home » Economy » Policyarun jaitley praises tenure of hasmukh adhia

अजय भूषण होंगे नए रेवेन्यू सेक्रेट्री, हसमुख अढ़िया 30 नवंबर को होंगे रिटायर

जीएसटी, ब्लैक मनी, मुद्रा जैसे फैसलों को आढ़िया ने कराया लागू

arun jaitley praises tenure of hasmukh adhia

नई दिल्ली. जीएसटी जैसे ठोस फैसलों को लागू करने वाले फाइनेंस सेक्रेट्री हसमुख अढ़िया 30 नवंबर को रिटायर होंगे। फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने अपने ब्लॉग में अढ़िया की जमकर तारीफ करते हुए कहा है कि अढ़िया के कार्यकाल को अलग अलग पहलों के लिए याद किया जाएगा। वहीं, UIDAI के चीफ अजय भूषण पांडेय को नया रेवेन्यू सेक्रेट्री बनाया जाएगा। 
यूआईडीएआई चीफ अजय भूषण पांडेय 1984 बैच के आईएएस अधिकारी हैं. महाराष्ट्र कैडर के भूषण 2010 से यूआईडीएआई के लिए काम कर रहे हैं. 

 

 

ट्विट कर दी जानकारी 
डॉ. हसमुख अढ़िया ने शनिवार को ट्विट करके यह जानकारी दी। 

 

 जेटली ने क्या कहा 
अपने ब्लॉग में जेटली ने कहा कि डॉ अढ़िया चार वर्षों तक वित्त मंत्रालय में रहे और पिछले तीन वर्षों से राजस्व सचिव की विशिष्ट जिम्मेदारी निभाई। फाइनेंशियल सर्विसेज के सचिव के तौर पर डॉ. अढ़िया ने बैंकिंग सेवाओं के माध्यम से सरकार के विभिन्न सामाजिक सुरक्षा कार्यक्रमों के कार्यान्वयन में अपना नेतृत्व दिखाया। खासकर मुद्रा योजना को सफलतापूर्वक लागू करने में उनके योगदान प्रशंसनीय रहा। 

 

काले धन के खिलाफ अभियान चलाया 

जेटली ने कहा कि रेवेन्यू सेक्रेट्री के तौर पर उनका कार्यकाल विभिन्न पहलों के लिए याद किया जाएगा। जहां उन्होंने नीति के आकार और कार्यान्वयन में बौद्धिक नेतृत्व प्रदान किया। उनके नेतृत्व में देश के भीतर और बाहर काले धन के खिलाफ ठोस अभियान चलाया गया। 

 

जीएसटी के लिए याद किए जाएंगे 
फाइनेंस मिनिस्टर ने कहा कि अढ़िया के कार्यकाल में ऐतिहासिक जीएसटी फैसला लिया गया। राज्यों व केंद्र के बीच जीएसटी कानूनों पर सर्वसम्मति बनाने, नियमों का मसौदा तैयार करना और टैरिफ तय करना, जो कि काफी कम समय में कया गया। अढ़िया और उनकी टीम के प्रयासों से ही यह संभव हुआ कि देश भर में 1 जुलाई 2017 से जीएसटी लागू हो गया। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट