बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyमई में 7.44 लाख लोगों को मिली नौकरी, EPFO ने जारी किया पेरोल जॉब डाटा

मई में 7.44 लाख लोगों को मिली नौकरी, EPFO ने जारी किया पेरोल जॉब डाटा

अप्रैल माह में संगठित क्षेत्र में लगभग 6.76 लाख नौकरियां पैदा हुई थीं।

1 of

नई दिल्‍ली। संगठित क्षेत्र में कर्मचारियों की मांग बढ़ रही है। मई माह में संगठित क्षेत्र में 7.44 लाख लोगों को नौकरियां मिली हैं। कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) ने मई माह का पेरोल डाटा जारी किया है। पेरोल डाटा के मुताबिक मई माह में सबसे अधिक नौकरियां पैदा हुई हैं। अप्रैल माह में संगठित क्षेत्र में  लगभग 6.76 लाख नौकरियां पैदा हुई थीं। ईपीएफओ ने सितंबर ने पेरोल डाटा जारी करना शुरू किया है। डाटा के अनुसार सितंबर के बाद से संगठित क्षेत्र में नई नौकरियां पैदा होने की रफ्तार लगातार बढ़ रही है। 

 

 

सितंबर से मई तक मंथली पेरोल डाटा 
 

माह नई नौकरियां 
सितंबर  5.43 लाख 
अक्‍टूबर  3.27 लाख 
नवंबर  5.82 लाख 
दिसंबर 4.64 लाख 
जनवरी  5.42 लाख 
फरवरी  4.99 लाख 
मार्च  4.80 लाख 
अप्रैल  6.85 लाख 
मई  7.44 लाख 

 

 

सोर्स-EPFO Payroll data

 


सबसे ज्‍यादा नौकरियां 18 से 21 साल के एज ग्रुप को 
 

EPFO डाटा के मुताबिक मई 2018 में सबसे ज्‍यादा नौकरियां 18 से 21साल के एज ग्रुप के लोगों को मिली हैं। इस एज ग्रुप के लगभग 2 लाख 51 हजार लोगों को नौकरियां मिली हैं। इससे पता चलता है कि संगठित क्षेत्र में युवाओं की मांग बढ़ रही है।  इसके बाद सबसे ज्‍यादा 22  से 25 साल के एज ग्रुप के लोगों को नौकरियां मिली हैं। मई  2018 में 22 से 25 साल  एज ग्रुप के लगभग 1 लाख 90  हजार लोगों को नौक‍रियां मिली हैं। 

  

ईपीएफओ ने पेरोल डाटा किया रिवाइज 

 

ईपीएफओ ने सितंबर 2017 से अप्रैल 2018 तक का पेरोल डाटा रिवाइज किया है। इसके तहत इस अविध में कुल 36. 6  लाख लोगों को नौकरियां मिली हैं। पहले यह डाटा 44.7 लाख था। भारतीय स्‍टेट बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि नए पेरोल डाटा में नौकरियां की संख्‍या घटने का कारण यह हो सकता है कि नौकरियां छोड़ने वाले कर्मचारियों के बारे में कंपनियां कुछ समय के बाद रिपोर्ट करती हैं जबकि नए ज्‍वाइन करने वाले कर्मचारियों की संख्‍या के बारे में रिपोटिंग तुरंत होती है। 

 कर्मचारियों के नौकरी छोड़ने की दर 10 फीसदी 

 

 एसबीआइ ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि सितंबर 2017 से अप्रैल 2018 के बीच संगठित क्षेत्र में कर्मचारियों के नौकरी छोड़ने की दर लगभग 10 फीसदी रही है। मार्च 2018 में कर्मचारियों के नौकरी छोड़ने की दर सबसे अधिक 23 फीसदी रही है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट