Home » Economy » PolicyDiesel prices break all records petrol is also close to the highest level

डीजल की कीमतों ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, पेट्रोल भी रिकॉर्ड हाई के करीब

दिल्ली समेत देश के कई शहरों में डीजल के दाम आज रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए।

Diesel prices break all records petrol is also close to the highest level

 

नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली समेत देश के कई शहरों में डीजल के दाम आज रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए।  इंडियन ऑयल के मुताबिक, रविवार को दिल्ली में डीजल का भाव 69.32 रुपए प्रति लीटर दर्ज किया गया है जो अबतक का सबसे उच्चतम स्तर है। इससे पहले, 29 मई 2018 को दिल्ली में डीजल का भाव 69.31 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच था, जो यह रविवार को टूट गया। बता दें कि, इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड ऑयल की कीमतों में हुई बढ़ोत्तरी और घरेलू स्तर पर डॉलर के मुकाबले रुपए में आई गिरावट के चलते डीजल नई रिकॉर्ड कीमत पर पहुंच गया है। साथ ही पेट्रोल के दाम भी इस साल 29 मई को दर्ज रिकॉर्ड हाई स्तर के करीब पहुंच चुका है। 
 
क्या है डीजल की कीमत 
शहर कीमत आज  दाम बढ़े पहले की रिकॉर्ड कीमत (29 मई को)  
दिल्ली 69.32 रुपए 14 पैसे 69.31 रुपए
मुंबई  73.59 रुपए  15 पैसे 73.79 रुपए 
चेन्नई  73.23 रुपए  15 पैसे 73.18 रुपए 
कोलकाता  72.16 रुपए 14 पैसे 71.86 रुपए

 

पेट्रोल के दाम भी बढ़े 

 
शहर कीमत आज  दाम बढ़े पहले की रिकॉर्ड कीमत (29 मई को)  
दिल्ली 77.78 रुपए  11 पैसे 78.43 रुपए
मुंबई  85.20 रुपए   11 पैसे 86.24 रुपए 
चेन्नई  80.80 रुपए  11 पैसे 81.43 रुपए
कोलकाता  80.71 रुपए 10 पैसे 81.06 रुपए
स्रोत: IOCL
 
महंगा हुआ क्रूड 
 
देश में डीजल और पेट्रोल के दाम लगातार बढ़े हैं। इससे आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इनमें बढ़ोत्तरी का सबसे बड़ा कारण इस हफ्ते इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड की कीमतों में जोरदार तेजी है। पिछले एक हफ्ते में अमेरिकी क्रूड ऑयल और ब्रेंट क्रूड की कीमतें 5 फीसदी से ज्यादा बढ़ी हैं। अमेरिकी क्रूड का भाव बढ़कर 68.72 डॉलर प्रति बैरल व ब्रेंट क्रूड का भाव बढ़कर 75.82 डॉलर प्रति बैरल हो गया है।
 
रुपए में गिरावट भी है एक वजह 
 
तेल कीमत बढ़ने का एक और बड़ा कारण रुपए में हो रही लगातार गिरावट है। क्रूड ऑयल की कीमतों में बढ़ोत्तरी के साथ घरेलू स्तर पर रुपए में भी भारी गिरावट आई है, डॉलर का भाव 70 रुपए के करीब है, ऐसे में तेल कंपनियों को विदेशों से क्रूड ऑयल का आयात करने के लिए ज्यादा रुपए खर्च करने पड़ रहे हैं और वह इसका बोझ पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ाकर ग्राहकों पर डाल रही हैं।
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट