विज्ञापन
Home » Economy » PolicyCity soon to have Eco Smart Railway Station

यह रेलवे स्टेशन बनेगा ईको स्मार्ट Railway station, यात्रियों को होंगे ये फायदे

रेलवे बोर्ड ने देश के 37 स्टेशनों का चयन किया है

City soon to have Eco Smart Railway Station

City soon to have Eco Smart Railway Station : पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर व भोपाल रेलवे स्टेशन को नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के निर्देश पर रेलवे बोर्ड ने ईको स्मार्ट स्टेशन बनाने के निर्देश दिए हैं। एनजीटी के आदेश के बाद रेलवे बोर्ड ने देश के 37 स्टेशनों का चयन किया है, जिसमें मध्य प्रदेश के दो स्टेशन शामिल किये गये हैं। बताया जा रहा है कि भोपाल को ईको स्मार्ट स्टेशन बनाने के लिए बजट का आवंटन नहीं हुआ है।

नई दिल्ली। पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर व भोपाल रेलवे स्टेशन को नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के निर्देश पर रेलवे बोर्ड ने ईको स्मार्ट स्टेशन बनाने के निर्देश दिए हैं। एनजीटी के आदेश के बाद रेलवे बोर्ड ने देश के 37 स्टेशनों का चयन किया है, जिसमें मध्य प्रदेश के दो स्टेशन शामिल किये गये हैं। बताया जा रहा है कि भोपाल को ईको स्मार्ट स्टेशन बनाने के लिए बजट का आवंटन नहीं हुआ है। इसके लिए विस्तृत प्लान बनाया जाएगा। इसके आधार पर बजट तय होगा। वहीं ईको स्मार्ट स्टेशन को मापदंडों के आधार पर बनाए रखने के लिए स्पेशल टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा। 

ईको स्टेशन बनाने के फायदें -

- रेलवे परिसर व यार्ड क्षेत्र से अतिक्रमण हटेगा। शौचालय व्यवस्थित होंगे।

- प्लास्टिक पर बैन रहेगा। ईको फ्रेंडली बैग व पॉलिथिन उपयोग होगी।

- वाटर ऑडिट, एनर्जी आडिट किया जाएगा, ताकि मौजूदा व्यवस्थाओं को बेहतर बनाया जा सके

- शुद्ध पानी मिलेगा। स्टेशन से निकलने वाले खराब पानी को रिसायकिल कर छोड़ा जाएगा।

- स्टेशन परिसर में कचरा नहीं मिलेगा। कचरे का व्यवस्थित निष्पादन होगा।

रोज 150 ट्रेनें गुजरती हैं

रेलवे की माने तो भोपाल स्टेशन से 24 घंटे में 50 हजार (सामान्य सीजन में) से 75 हजार (अवकाश, शादियों के सीजन में) यात्री गुजरते हैं। जबकि 150 से अधिक यात्री ट्रेनें गुजरती हैं। ईको स्मार्ट स्टेशन बनने से इन यात्रियों को फायदा होगा।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन