बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policy15 अगस्‍त को आयुष्‍मान स्‍कीम हो सकती है लांच, हाइब्रिड मॉडल से कम होगा प्रीमियम

15 अगस्‍त को आयुष्‍मान स्‍कीम हो सकती है लांच, हाइब्रिड मॉडल से कम होगा प्रीमियम

आयुष्‍मान स्‍कीम के लिए स्‍वास्‍थ्‍य मित्र नियुक्‍त करेगी सरकार

pm on aaushmaan scheme

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 अगस्‍त को स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले से आयुष्‍मान भारत स्‍कीम लांच करने की घोषणा कर सकते हैं। इस स्‍कीम के तहत लगभग 50 करोड़ लोगों को सालाना 5 लाख रुपए के इलाज की मुफ्त सुविधा दी जाएगी। केंद्र सरकार की योजना इस स्‍कीम के तहत देश के लगभग 10 करोड़ परिवारों को कवर करने की है। अभी इस स्‍कीम के तहत देश के सामाजिक और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को मुफ्त इलाज की सुविधा मुहैया कराई जाएगी। 

 

हाइ‍ब्रिड मॉडल पर आधारित हो सकती है आयुष्‍मान भारत स्‍कीम 

 

सूत्रों के मुताबिक देश के तमाम राज्‍यों में इस स्‍कीम को हाइब्रिड मॉडल पर लागू किया जा सकता है। इसके तहत 1 लाख रुपए तक के इलाज का खर्च बीमा कंपनी वहन करेगी। वहीं इलाज का बिल 1 लाख रुपए से अधिक होने पर बिल का भुगतान ट्रस्‍ट करेगा। देश में इस स्‍कीम को लागू करने के लिए 23 राज्‍य सहमत हो गए हैं। लेकिन कई राज्‍य ऐसे हैं जो अपने यहां इस स्‍कीम को इन्‍श्‍योरेंस मॉडल के बजाए ट्रस्‍ट मॉडल पर लागू करना चाहते हैं। हाइब्रिड मॉडल पर ज्‍यादातर राज्‍य सहमत हो सकते हैं। इससे बीमा कंपनियों पर भी कम खर्च आएगा और केंद्र सरकार को भी इस स्‍क्‍ीम के तहत प्रति परिवार कम प्रीमियम देना होना। 


आयुष्‍मान स्‍कीम के लिए स्‍वास्‍थ्‍य मित्र नियुक्‍त करेगी सरकार 

 

जनधन योजना की तर्ज पर मोदी सरकार आयुष्मान योजना के लिए बड़ा दांव लगाने जा रही है। इसके तहत देश भर में स्वास्थ्य मित्र बनाए जा सकते हैं, जो कि स्कीम के तहत लोगों का बीमा करवाने के साथ इलाज की सुविधा भी दिलाएंगे। इसके बदले स्‍वास्‍थ्‍य मित्र को एक निश्चित सैलरी के साथ इंसेंटिव भी मिलेगा। स्वास्थ्य मित्र ठीक उसी तरह होंगे जैसे अभी जनधन योजना में बैंक मित्र लोगों का खाता खुलवाने के साथ-साथ बैंकिंग ट्रांजैक्शन कराते हैं। इस संबंध में मंत्रालय स्तर पर विचार-विमर्श चल रहा है। सरकार की योजना 15 अगस्त 2018 को आयुष्मान स्कीम लॉन्‍च करने की है। 

 
क्‍या है आयुष्‍मान भारत स्‍कीम

 

आयुष्‍मान भारत स्‍कीम की घोषणा बजट 2019 के दौरान की गई थी। इस स्‍कीम के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपए तक के फ्री हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधा दी जाएगी। इसमें लगभग सभी गंभीर बीमारियों का इलाज कवर होगा। कोई भी व्यक्ति (विशेष रूप से महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग) इलाज से वंचित न रह जाए, इसके लिए स्कीम में फैमिली साइज और उम्र पर कोई सीमा नहीं लगाई गई है। इस स्कीम में हॉस्पिटलाइजेशन से पहले और बाद के खर्च को भी शामिल किया गया है। हर बार हॉस्पिटलाइजेशन के लिए ट्रांसपोर्टेशन अलाउंस का भी उल्लेख किया गया है, जिसका भुगतान लाभार्थी को किया जाएगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट