बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyआधार 1 जुलाई से लागू करेगा फेस ऑथेंटिकेशन सिस्‍टम, सुप्रीम कोर्ट में दिलाया था भरोसा

आधार 1 जुलाई से लागू करेगा फेस ऑथेंटिकेशन सिस्‍टम, सुप्रीम कोर्ट में दिलाया था भरोसा

UIDAI 1 जुलाई से चेहरे से पहचानने (फेस ऑथेंटिकेशन) के लिए एक नया टूल जारी करेगा।

1 of

 

नई दिल्‍ली. यूनिक आईडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) 1 जुलाई से चेहरे से पहचानने (फेस ऑथेंटिकेशन) के लिए एक नया टूल जारी करेगा। UIDAI ने इस टूल को लोन की घोषणा इसी साल जनवरी में की थी। यह सुविधा उन लोगों के काफी फायदेमंद साबित हो सकती है जिनके बॉयोमैट्रिक लेने में दिक्‍कत आ रही हो। आमतौर पर ज्‍यादा उम्र के लोगों को इस दिक्‍कत का सामना करना पड़ता है। 

 
 
तीन तरह से ले सकेंगे इसका फायदा
आधार अथॉरिटी ने कहा है कि फेस ऑथेंटिकेशन का फायदा लेने के लिए तीन तरह के मॉडल तैयार किए गए हैं। इसके साथ ओटीपी, आंखों की पुलतियों से पहचान या फिंगर प्रिंट का भी इस्‍तेमाल करना होगा। ऐसा होने के बाद ही आधार होल्‍डर की सिस्‍टम में पहचान वैरीफाई हो पाएगी।

 
 
सिस्‍टम की सुरक्षा का कोर्ट में दिलाया था भरोसा
सुप्रीम कोर्ट में आधार अथॉरिटी ने भरोसा दिलाया था कि यह पूरी तरह से सुरक्षित है और इसका कोड़ तोड़ने में किसी भी सुपर कंप्‍यूटर को भी दुनिया की उम्र पूरी होने से ज्‍यादा समय लगेगा। सुप्रीम कोर्ट में यह प्रजेंटेशन आधार के सीइओ अजय भूषण ने दिया था। इसी दौरान उन्‍होंने कोर्ट को बताया था कि 1 जुलाई से फेस ऑथेंटिकेशन की सुविधा शुरू कर दी जाएगी।
 
 
कई जगह पहचान के लिए काम आता है आधार
आधार कई जगह पहचान के लिए काम आता है। इसमें बैंक, टेलीकॉम कंपनियां, सावर्जनिक वितरण प्रणाली, इनकम टैक्‍स जैसी जगहों पर यह पहचान के लिए काम आता है। इस समय रोज लगभग 4 करोड़ ऑथेंटिकेशन रोज किए जा रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट में दिए प्रजेंटेशन के अनुसार अभी तक 1,696.38 करोड़ आधार ऑथेंटिकेशन और 464.85 करोड़ eKYC ट्रांजैक्‍शन हो चुके हैं।
 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट