बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyतूतीकोरिन स्टरलाइट कॉपर प्लांट हमेशा के लिए बंद, सरकार ने गेट पर लगाया नोटिस

तूतीकोरिन स्टरलाइट कॉपर प्लांट हमेशा के लिए बंद, सरकार ने गेट पर लगाया नोटिस

तमिलनाडु सरकार ने तूतीकोरिन स्थित स्टरलाइट कॉपर प्लांट को हमेशा के लिए बंद करने के आदेश जारी कर दिए हैं।

1 of

चेन्नई. तमिलनाडु सरकार ने तूतीकोरिन स्थित स्टरलाइट कॉपर प्लांट को हमेशा के लिए बंद करने के आदेश जारी कर दिए हैं। सरकार ने पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड से वेदांता ग्रुप के इस प्लांट को सील करने का आदेश दिया है। आदेश में पर्यावरण और पानी को   लेकर बनी राज्य की नीतियों का हवाला देते हुए कहा गया कि जनहित को देखते हुए इसे हमेशा के लिए बंद किया जाना चाहिए। फैक्ट्री के विरोध में चल रहा लोगों का प्रदर्शन 22 मई को हिंसक हो गया था। इसे रोकने के लिए की गई पुलिस फायरिंग में 13 लोगों की जान चली गई थी।

 

 

फैक्ट्री की बिजली पहले ही काट दी गई
सरकार ने अपने ऑर्डर में कहा कि हम तमिलनाडु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के निर्देशों का समर्थन करते हैं। ऑर्डर में कहा गया, "9 अप्रैल को प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (पीसीबी) ने वेंदाता की कॉपर स्टरलाइट फैक्ट्री को आगे अपना काम जारी रखने की मंजूरी नहीं थी। 23 मई को बोर्ड ने इस फैक्ट्री को बंद करने और यूनिट की बिजली सप्लाई काटने के निर्देश दिए थे। इसके बाद यहां की पावर सप्लाई बंद कर दी गई थी। मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने कहा कि सरकार ने लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया है।

 

 

99 दिनों तक फैक्ट्री बंद करने के विरोध में चला प्रदर्शन
स्टरलाइट कॉपर प्लांट को बंद करने के लिए लोगों ने 99 दिनों तक प्रदर्शन किया था। उनका आरोप है कि फैक्ट्री इलाके में प्रदूषण फैला रही है। यहां धातु गलाने के साथ कॉपर का काम होता है, जिससे जहरीले रसायन का प्रदूषण हर ओर फैल रहा है और ये जानलेवा है।

 

 

दूसरी यूनिट लगाने को लेकर शुरू हुआ विरोध
इस फैक्ट्री में धातु गलाया जाता है और एक साल में चार लाख टन तांबे का तार बनता है। कंपनी की नई प्लानिंग के मुताबिक वो हर साल 8 लाख टन तांबे के तार का प्रोडक्शन करना चाह रही थी। इसके लिए कंपनी ने हाल ही में शहर में अपनी एक और यूनिट शुरू करने की घोषणा की थी। इसके बाद से ही विरोध शुरू हो गया। पिछले हफ्ते ही मद्रास हाईकोर्ट ने के तूतीकोरिन जिले की वेदांता ग्रुप की कंपनी स्टरलाइट कॉपर के सेकंड यूनिट को बनाने पर रोक लगा दी थी।

 

 

कमल हासन ने इसे जनता की जीत बताया
कमल हासन ने कहा, "स्टरलाइट फैक्ट्री को बंद करने का तमिलनाडु सरकार का ये फैसला जनता की जीत है। हमें विरोध के दौरान शहीद हुए लोगों को सलाम करना चाहिए और उनसे सीखना चाहिए। तमिलनाडु की राजनीति का भविष्य यहां के लोगों ने ही बदला है और अब ज्यादा लोग बदलाव लाने मेें अपना सहयोग करेंगे। मौजूदा फैसले के खिलाफ किसी भी कानूनी कदम को भी सरकार को रोकना चाहिए, ताकि ये सुनिश्चित हो सके कि फैसला हमेशा के लिए लागू हो सके।'

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट