विज्ञापन
Home » Economy » PolicyDon't play around with the law, says SC, asks Karti to deposit Rs 10 crore for travelling abroad

कानून से मत खेलो, 10 Cr जमा कराओ फिर जाओ विदेश; SC ने कार्ति चिदम्बरम से कहा 

Supreme Court ने आईएनएक्स मीडिया-एयरसेल मैक्सिस केस की जांच में सहयोग करने की भी दी हिदायत

Don't play around with the law, says SC, asks Karti to deposit Rs 10 crore for travelling abroad

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने बुधवार को पूर्व वित्त मंत्री पी चिदम्बरम (P Chidambaram) के बेटे कार्ति चिदम्बरम को विदेश जाने की अनुमति दे दी। हालांकि कोर्ट ने उनके सामने 10 करोड़ रुपए रजिस्ट्री के साथ जमा कराने की शर्त भी रख दी। सुप्रीम कोर्ट ने कार्ति चिदम्बरम को आईएनएक्स मीडिया और एयरसेल मैक्सिस केस की जांच में सहयोग करने की हिदायत देते हुए कहा कि ‘कानून से बिल्कुल भी मत खेलो।’

 

जांच में सहयोग करना होगा

सुप्रीम कोर्ट ने कार्ति चिदम्बरम को आईएनएक्स मीडिया और एयरसेल मैक्सिस केस पूछताछ के लिए एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) के सामने 5, 6, 7 और 12 मार्च को पेश होने के भी निर्देश दिए। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली एक बेंच ने कहा, ‘10 फरवरी से 26 फरवरी के बीच आप जहां जाना चाहें जा सकते हैं, लेकिन जांच में आपको सहयोग करना होगा।’

 

कोर्ट ने ईडी से पूछी थी तारीखें

बेंच ने कहा, ‘अपने क्लाइंट्स को बता दो कि उन्हें सहयोग करना ही होगा। आपने सहयोग नहीं किया है। हम कई बातें कहना चाहते हैं। हम अभी उनसे नहीं कह रहे हैं।’ शीर्ष अदालत ने सोमवार को उन तारीखों का उल्लेख करने के लिए कहा था, जब वह कार्ति से पूछताछ करना चाहते हैं।

 

विदेश जाने के लिए कार्ति जमा करें 10 करोड़ रु

कार्ति चिदम्बरम के विदेश जाने के अनुरोध पर सुप्रीम कोर्ट ने उनसे कोर्ट के सेक्रेटरी जनरल के पास 10 करोड़ रुपए जमा कराने के लिए कहा। साथ ही बेंच ने कार्ति से यह अंडरटेकिंग जमा करने के लिए भी कहा कि वह वापस लौटेंगे और जांच में सहयोग करेंगे। कार्ति ने 10 फरवरी से 26 फरवरी के बीच और फिर 23 मार्च से 31 मार्च तक विदेश जाने की अनुमति मांगी थी।
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन