Advertisement
Home » इकोनॉमी » पॉलिसीAfter the mustard and sugar, now the biofuel will be made from wheat and rice

सरसों-चीनी के बाद अब गेहूं और चावल से बनेंगे बायोफ्यूल, बचेंगे 4000 करोड़

जंगली बीज से बाद सरकार अब गेहूं व चावल के टुकड़ों से बायोफ्यूल बनाने की योजना बना रही है।

After the mustard and sugar, now the biofuel will be made from wheat and rice

नई दिल्ली।  जंगली बीज से बाद सरकार अब गेहूं व चावल के टुकड़ों से बायोफ्यूल बनाने की योजना बना रही है। हाल ही में एक कार्यक्रम में परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था कि देश में गेहूं-चावल पर्याप्त मात्रा में है, इसलिए हम गेहूं-चावल से भी बायोफ्यूल बनाएंगे। कुछ दिन पहले सरकार की तरफ से नेशनल बायोफ्यूल पॉलिसी की घोषणा की गई थी। पॉलिसी में भी गेहूं-चावल से बायोफ्यूल बनाने का प्रस्ताव है। सरकार ने बायोफ्यूल के इस्तेमाल को बढ़ावा देकर आयात बिल से 4000 करोड़ रुपये बचाने का लक्ष्य रखा है।

 

ब्रिटेन में चावल से पहले से बने रहे हैं बायोफ्यूल

भारत में गेहूं व चावल लोगों के मुख्य भोजन है। लेकिन हमारे देश में दोनों ही जरूरत से अधिक है। कई बार तो गेहूं का उत्पादन इतना अधिक हो जाता है कि उसे रखने की जगह नहीं होती और गेहूं सड़ जाता हैं। इसलिए सरकार जरूरत के अतिरिक्त वाले चावल-गेहूं से बायोफ्यूल बनाने की योजना तैयार कर रही है। अभी भारत में जट्रोफा एवं जंगली बीज से बायोफ्यूल तैयार करने पर काम शुरू हो गया है। आलू से भी बायोफ्यूल तैयार करने की योजना है। चीनी से एथनॉल बनाने का काम पहले से ही हो रहा है। सरकार ने पेट्रोल में 22 फीसदी तक एथनॉल के इस्तेमाल का लक्ष्य रखा है। ब्रिटेन में चावल से पहले से ही बायोफ्यूल का उत्पादन हो रहा है। कई देशों में सरसों से भी बायोफ्यूल बनाने का काम हो रहा है।

Advertisement

 

जल्द ही बायोफ्यूल से चलने वाले टू-व्हीलर होंगे देश में

गडकरी ने बताया कि टीवीएस जैसी कंपनी बायोफ्यूल से चलने वाले टू-व्हीलर को तैयार कर लिया है। जल्द ही इस प्रकार के दोपहिया वाहन लांच कर दिए जाएंगे।  बजाज ऑटो बायोफ्यूल से चलने वाले थ्री-व्हीलर पर कर रही है। बायोफ्यूल की कीमत पेट्रोल के मुकाबले लगभग 40 फीसदी कम होती है। इससे सरकार व यात्री दोनों को फायदा होगा।

Advertisement

 

यह भी पढ़ें, जंगली बीजों की खेती कर लाखों कमाएं, मोदी सरकार तैयार कर रही 10,000 करोड़ का बाजार

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement
Don't Miss