बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policy78 करोड़ में बेचा टॉयलेट का पानी, अब उससे निकलने वाली गैस से चलती हैं 50 बसें

78 करोड़ में बेचा टॉयलेट का पानी, अब उससे निकलने वाली गैस से चलती हैं 50 बसें

टॉयलेट के पानी को भी कोई खरीद सकता है, यह सुनकर हैरानी होगी। लेकिन यह सच्चाई है।

modi govt sold toilet water in 78 cr rs

 

मनी भास्कर, नई दिल्ली

 

टॉयलेट के पानी को भी कोई खरीद सकता है, यह सुनकर हैरानी होगी। लेकिन यह सच्चाई है। नागपुर में सरकारी एजेंसी ने टॉयलेट के पानी को 78 करोड़ रुपए में बेच दिया है। अब उससे नागपुर शहर में 50 एसी बसें चलाई जा रही है। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने बताया कि नागपुर में वैकल्पिक फ्यूल को लेकर कई प्रयोग किए  जा रहे हैं। इनमें से एक टॉयलेट के पानी से बायो सीएनजी निकालकर उससे बस चलाने की योजना है। अभी ऐसी 50 बसें चल रही हैं।

 

 

गंगा की गंदगी से निकाली जाएगी गैस, 26 शहरों में चलेंगी बसें

गडकरी ने बताया कि पेट्रोलियम मंत्रालय के अधीन काम करने वाली तेल व गैस कंपनियों के साथ एक करार किया गया है, जिसके तहत गंगा किनारे बसे 26 शहरों को लाभ होगा। उन्होंने बताया कि पानी की गंदगी से निकलने वाली मीथेन गैस से बायो सीएनजी तैयार की जाएगी, जिससे इन 26 शहरों में सिटी बसें चलेंगी। इस काम से 50 लाख युवाओं को रोजगार मिलेंगे। इससे गंगा की सफाई भी होगी।

 

 

कोयला आधारित मीथेन से मुंबई, पुणे व गुवाहाटी में सिटी बस चलाने की तैयारी

गडकरी ने बताया कि हमारे देश में कोयले की कोई कमी नहीं है। इससे मीथेन निकालकर फिलहाल मुंबई, पुणे व गुवाहाटी में सिटी बस चलाने की तैयारी चल रही है। उन्होंने बताया कि 62 रुपए प्रति लीटर के डीजल की कीमत के बराबर काम करने वाली मीथेन की कीमत 16 रुपए पड़ती है। उन्होंने बताया कि देश में वैकल्पिक फ्यूल को लेकर कई प्रकार के प्रयोग किए जा रहे हैं।


 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट