Home » Economy » PolicyMann Ki Baat Kerala will catch timely recovery from floods

'मन की बात' में पीएम ने कहा, बाढ़ से उबर जल्द लय पकड़ेगा केरल

देश 91वें संशोधन अधिनियम 2003 के लिए हमेशा अटल जी का ऋणी रहेगा।

Mann Ki Baat Kerala will catch timely recovery from floods
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में 47वां संस्करण को संबोधित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अभी कुछ ही दिन बाद जन्माष्टमी का पर्व भी आने वाला है और पूरा वातावरण हाथी, घोड़ा, पालकी, जय कन्हैयालाल की, गोविन्दा-गोविन्दा की जयघोष से गूंजने वाला है। सभी देशवासियों को दी रक्षाबन्धन एवं जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।' 

 
आपदाओं में दिखता है मानवता का दर्शन 
 
इसके बाद पीएम मोदी ने केरल बाढ़ पीड़ितों की चर्चा शुरू की। उन्होंने कहा कि आपदाएं अपने पीछे जिस प्रकार की बर्बादी छोड़ जाती हैं, वह दुर्भाग्यपूर्ण है। लेकिन आपदाओं के समय मानवता के भी दर्शन हमें देखने को मिलते हैं। कच्छ से कामरूप और कश्मीर से कन्याकुमारी तक हर कोई अपने-अपने स्तर पर कुछ-न-कुछ कर रहा है। उन्होंने कहा कि कठिन परिश्रम करने वाले किसानों के लिए मानसून नई उम्मीदें लेकर आता है। भीषण गर्मी से झुलसते पेड़-पौधे, सूखे जलाशयों को राहत देता है लेकिन कभी-कभी यह अतिवृष्टि और विनाशकारी बाढ़ भी लाता है। उन्होंने कहा कि जज्बे और साहस के बल पर केरल जल्द ही फिर से उठ खड़ा होगा। 
 
अटल जी को भी किया याद 
 
पीएम मोदी ने पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए कहा कि देश 91वें संशोधन अधिनियम 2003 के लिए हमेशा अटल जी का ऋणी रहेगा। इससे दलबदल विरोधी कानून के तहत तय सीमा एक तिहाई से बढ़ाकर दो तिहाई कर दी गई। दलबदल पर अयोग्य ठहराने का भी प्रावधान जोड़ा गया। राज्यों की कैबिनेट में यह तय किया गया कि कुल विधायकों की 15 फीसदी संख्या ही मंत्रीपरिषद में शामिल हो सकती है। उन्होंने बजट के समय को शाम की बजाय सुबह कर दिया। इंडियन फ्लैग कोड बनाने काम भी उनके दौर में ही हुआ। 
 
एससी-एसटी एक्ट पर भी की बात 
 
मॉनसून सत्र में संसद की प्रॉडक्टिविटी को लेकर पीएम ने कहा, 'लोकसभा की प्रॉडक्टिविटी 118 पर्सेंट और राज्य सभा की 74 पर्सेंट रही। लोकसभा ने 21 और राज्यसभा ने 14 विधेयकों को पारित किया। इस सत्र में पिछड़ा और युवाओं को लाभ पहुंचाने के लिए कई विधेयकों को पारित किया गया। दशकों से ओबीसी आयोग की मांग चली आ रही थी। लेकिन, इस सरकार ने आयोग बनाने के साथ ही उसे संवैधानिक दर्जा देने का काम किया।' इसके अलावा उन्होंने एससी-एसटी ऐक्ट संशोधन विधेयक को पारित कराने को भी सरकार की उपलब्धि करार दिया। उन्होंने कहा कि इससे गरीब दलितों का उत्पीड़न से बचाव हो सकेगा। 
 
संस्कृत दिवस की भी दी बधाई 
 
उन्होंने कहा कि संस्कृत ऐसी भाषा है, जिससे तमाम शब्दों की रचना संभव है। श्रावण की पूर्णिमा को संस्कृत दिवस मनाया जाता है। भारत की इस धरोहर को सहेजने वाले लोगों को बधाई। पीएम मोदी ने कहा कि संस्कृत के सुभाषित हमेशा प्रेरणा देते हैं। यही नहीं पीएम मोदी ने कहा कि भारत रत्न विश्वेश्वरैया के जन्मदिवस 15 सितंबर को इंजिनियर डे के तौर पर मनाया जाएगा। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हर भाषा का अपना महत्व होता है। भारत इस बात का गर्व करता है कि तमिल भाषा विश्व की सबसे पुरानी भाषाओं में से एक है। 
 
इको फ्रेंडली गणेश उत्सव मनाने की दी थी सलाह  
 
इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने पिछली बार 29 जुलाई को 'मन की बात' में सभी से इको-फ्रेंडली गणेश उत्सव मनाने की अपील की। उन्होंने कहा, हर शहर में इको-फ्रेंडली गणेश उत्सव की अलग स्पर्धाएं हों, उनको इनाम दिए जाएं। साथ ही उन्होंने लोकमान्य तिलक, चंद्र शेखर आजाद जैसे महान स्वतंत्रता सेनानियों को भी याद किया। इस दौरान प्रधानमंत्री ने प्रकृति प्रेमी बने और इसके रक्षक बनने की भी सलाह दी थी।  
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट