विज्ञापन
Home » Economy » PolicyM J Akbar resigns as minister

#Metoo कैंपेन में फंसे अकबर ने मंत्री पद से दिया इस्तीफा

सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोपों से जूझ रहे विदेश राज्य मंत्री एम. जे. अकबर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

M J Akbar resigns as minister
कई महिला पत्रकारों की तरफ से सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोपों से जूझ रहे विदेश राज्य मंत्री एम. जे. अकबर ने बुधवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। दिल्ली की एक कोर्ट द्वारा एक पत्रकार के खिलाफ दायर मानहानि की याचिका सुनवाई के लिए स्वीकार किए जाने के एक दिन बाद अकबर ने इस्तीफा दिया है।

 

नई दिल्ली. कई महिला पत्रकारों की तरफ से सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोपों से जूझ रहे विदेश राज्य मंत्री एम. जे. अकबर ने बुधवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। दिल्ली की एक कोर्ट द्वारा एक पत्रकार के खिलाफ दायर मानहानि की याचिका सुनवाई के लिए स्वीकार किए जाने के एक दिन बाद अकबर ने इस्तीफा दिया है।

 

आरोपों को झूठा करार दे चुके हैं अकबर

गौरतलब है कि अकबर रविवार को विदेश दौरे से लौटे हैं और लौटते ही उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों को झूठा करार दिया था। सोमवार को उन्होंने आरोप लगाने वाली पत्रकारों में से एक प्रिया रमानी के खिलाफ आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर किया था। हालांकि, रमानी के समर्थन में 20 महिला पत्रकार भी सामने चुकी हैं।

 

रमानी को मिला कई पत्रकारों का सपोर्ट

आरोप लगाने वाली सभी पत्रकार 'द एशियन एज' अखबार में काम कर चुकी हैं। अकबर की ओर से रमानी को मानहानि का नोटिस भेजे जाने पर इन महिला पत्रकारों ने एक संयुक्त बयान जारी करके रमानी को समर्थन देने की बात कही। उन्होंने कोर्ट से अदालत से आग्रह किया कि अकबर के खिलाफ उनकी बात को भी सुना जाए।

 

एक दर्जन से ज्यादा पत्रकार कर चुकी हैं शिकायत

67 वर्षीय अकबर एक अंग्रेजी अखबार के पूर्व संपादक हैं। सबसे पहले रमानी ने उनके खिलाफ आरोप लगाए थे और बाद एक दर्जन से ज्यादा महिला पत्रकार उनके खिलाफ सामने आ गईं। इन महिला पत्रकारों ने उनके साथ काम किया था, जिनमें कुछ विदेशी पत्रकार भी शामिल हैं।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन