विज्ञापन
Home » Budget 2019know everything about interim biudget 2019, vote on account

जान लें बजट से जुड़ी ये 4 जरूरी बातें, सरकार ने खुद दी जानकारी

सामान्य बजट से अलग है इस बार का बजट

1 of

नई दिल्ली. मई में संभावित आम चुनावों के मद्देनजर केंद्र सरकार इस बार 1 फरवरी को एंटरिम बजट (Interim budget 2019) पेश करने जा रही है। इसे देखते हुए वित्त मंत्रालय ने बजट से 15 दिन पहले लोगों को जागरूक करने के लिए 'नो योर बजट' (Know Your Budget) यानी 'अपने बजट को जानो' कैंपेन शुरू किया है। इसके तहत मंत्रालय बजट से जुड़ी अहम बातें बता रहा है। जानें बजट से जुड़ी 4 अहम बातें…


1. क्या होता है आम बजट (Union budget 2019) 

यूनियन बजट यानी आम बजट (Union budget 2019) सरकार के फाइनेंसेस की सबसे ज्यादा व्यापक रिपोर्ट होती है, जिसमें सभी स्रोतों से मिलने वाले राजस्व और सभी गतिविधियों पर व्यय होने वाले बजट का खाका खींचा जाता है। बजट में अगले वित्त वर्ष के लिए सरकार के अकाउंट्स का पूरा अनुमान शामिल होता है, जिसे बजट अनुमान भी कहा जाता है।

 

2. क्या होता है वोट ऑन अकाउंट (Vote on Account)

जब केंद्र सरकार को पूरे साल के बजाय कुछ महीनों के लिए ही संसद से जरूरी खर्च के लिए अनुमति लेनी होती है तो वह अंतरिम बजट के बजाय वोट ऑन अकाउंट (Vote on Account) पेश कर सकती है। अंतरिम बजट और वोट ऑन अकाउंट (Vote on Account) दोनों ही कुछ ही महीनों के लिए होते हैं लेकिन दोनों के पेश करने के तरीकों में तकनीकी अंतर होता है। अंतरिम बजट में केंद्र सरकार खर्च के अलावा राजस्व का भी ब्योरा पेश करती है जबकि लेखानुदान में सिर्फ खर्च के लिए संसद से मंजूरी मांगती है।

 

 


 

3. क्या होता है रेवेन्यू बजट (Revenue Budget)

रेवेन्यू यानी राजस्व बजट (Revenue Budget) में सरकार को होने वाली राजस्व प्राप्तियां और उसके व्यय का पूरा ब्योरा होता है। राजस्व प्राप्तियों को कर और गैर कर प्राप्तियों में बांटा जाता है। कर राजस्व में आयकर, कॉरपोरेट कर और अन्य शुल्क शामिल होते हैं, जो सरकार वसूलती है। गैर कर राजस्व स्रोत में कर्ज, निवेश पर लाभांश शामिल होते हैं।

 

4. क्या है कैपिटल बजट (Capital Budget)

कैपिटल बजट में पूंजी प्राप्तियां और भुगतान शामिल होते हैं। इसमें केंद्र सरकार द्वारा शेयरों में निवेश, राज्य सरकारों, सरकारी कंपनियों, निगमों और अन्य पक्षों को दिए गए कर्ज और अग्रिम शामिल होते हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन