Home » Economy » PolicyGovernment has raised base import prices of all edible oils

एडिबल ऑयल पर बेस इंपोर्ट प्राइस बढ़ा, 4 डॉलर प्रति ट्रिलियन तक बढ़ोत्तरी

सरकार ने सभी एडिबल ऑयल के बेस इंपोर्ट प्राइस में 1 से 4 डॉलर प्रति ट्रिलियन तक की बढ़ोत्तरी की है।

Government has raised base import prices of all edible oils

नई दिल्ली। सरकार ने सभी एडिबल ऑयल के बेस इंपोर्ट प्राइस में 1 से 4 डॉलर प्रति ट्रिलियन तक की बढ़ोत्तरी की है। एक ऑफिशियल नोटिफिकेशन द्वारा इसकी जानकारी दी गई है। ग्लोबल प्राइस और फॉरेन एक्सचेंज रेट में फ्लक्चुएसन के बेस पर सरकार ने रेट रिवाइज किए हैं। इसके पहले 1 मार्च को रेट में रिविजन किया गया था। 


नोटिफिकेशन के अनुसार 3 एडिबल ऑयल का बेस इंपोर्ट प्राइस 1 डॉलर प्रति ट्रिलियन, वहीं रिफाइंड, ब्लीच्ड डियोडोराइज्ड पाल्म ऑयल और क्रूड पॉल्म ऑयल के इंपोर्ट बेस प्राइस में 2 और 4 डॉलर प्रति ट्रिलियन की बए़ोत्तरी हुई है। 


-क्रूड पॉल्म ऑयल का बेस इंपोर्ट प्राइस 687 से बढ़कर 689 डॉलर प्रति ट्रिलियन हो गया है।
-RBD पॉल्म ऑयल का बेस इंपोर्ट प्राइस 697 से बढ़कर 701 डॉलर प्रति ट्रिलियन हो गया है।
-क्रूड पाल्मोलीन का बेस इंपोर्ट प्राइस 705 से बढ़कर 706 डॉलर प्रति ट्रिलियन हो गया है।
-RBD पॉल्मोलीन का बेस इंपोर्ट प्राइस 705 से बढ़कर 706 डॉलर प्रति ट्रिलियन हो गया है।
-क्रूड सोया ऑयल का बेस इंपोर्ट प्राइस 814 से बढ़कर 815 डॉलर प्रति ट्रिलियन हो गया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट