बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyनौकरियों के लिए मुश्किल होंगे 5 साल, फिर मिलेंगे हाईटेक जॉब्‍स

नौकरियों के लिए मुश्किल होंगे 5 साल, फिर मिलेंगे हाईटेक जॉब्‍स

भारत में नौकरियों की दुनिया बदलने वाली है।

1 of

नई दिल्‍ली. भारत में नौकरियों की दुनिया बदलने वाली है। तकनीक के बदलाव के चलते 2022 तक कुल जॉब्‍स मार्केट के 9 फीसदी जॉब्‍स ऐसे होंगे जिनका आज कोई अतापता नहीं है। उस वक्‍त तक करीब 60 करोड़ नौकरियां होंगी, जिसमें से साढ़े पांच करोड़ नौकिरियां एक दम बदली हुई तकनीक पर आधारित होंगी। इस बात की जानकारी एक रिर्पोट में सामने आई है। हालांकि रिपोर्ट के अनुसार अगले 5 साल नौकरियों के लिए मुश्किल भरे साबित होंगे।

 

 

यह भी पढ़ें : जॉब मिलने से पहले ही बच्चे को होने लगेगी 50 हजार की रेग्युलर इनकम

 

 

फिक्‍की-नॉसकॉम और अर्नेस्‍ट एंड यंग की रिपोर्ट

फिक्‍की-नॉसकॉम और अर्नेस्‍ट एंड यंग ने मिलकर एक रिपोर्ट तैयार की है। इस रिपोर्ट के अनुसार अगले दो साल तक नौकरियों के बाजार में गिरावट का दौर रहेगा। इसका सबसे बड़ा कारण कंपनियों का अपने कारोबार को रिस्‍ट्रक्‍चर करना और आने वाली चुनौतियों से मुकाबले लायक बनने पर है। लेकिन 2022 तक पूरा जॉब्‍स मार्केट एकदम बदल जाएगा।

 

2022 तक पैदा होंगी 9 फीसदी नई नौकरियां

रिपोर्ट के अनुसार वैश्विकरण, डेमोग्राफिक्‍स और तकनीक में तेज बदलाव से नौकरियों के क्षेत्र में बड़ा बदलाव आएगा। 2022 तक कुल नौकरियों में से 9 फीसदी ऐसी होंगी जो एकदम नई होंगी। इस तरह की नौकरियों के बारे में अभी लोगों ने सोचा भी नहीं होगा। वहीं 37 फीसदी नौकिरियों में भारी बदलाव देखने को मिलेगा।

 

2017 नौकरियों के लिए भारी रहा

रिपोर्ट के अनुसार 2017 नौकरी करने वालों के लिए भारी रहा। इस दौरान करीब 21 फीसदी लोगों को नौकरी में खतरे का सामना करना पड़ा। अर्नेस्‍ट एंड यंग के अनुराग मलिक के अनुसार इंडस्‍ट्रीज के सामने नई तकनीक को आत्‍मसात करने की चुनौती सबसे बड़ी है। इसके चलते इंडस्‍ट्रीज को कई दिक्‍कतों का सामना करना पड़ रहा है।

 

आगे पढ़ें : किन सेक्‍टर में मिलेगा मौका

 

यह भी पढ़ें : वेतन से ज्‍यादा मिलने लगेगी पेंशन, ये है तरीका

 

 

 

कई सेक्‍टरों में दिखेगा बदलाव

मलिक ने रिपोर्ट में कहा है कि तकनीक के चलते कई कारोबार में भारी बदलाव दिखेगा। इनमें ट्रांसपोर्ट, मेंटीनेंस और फूड कैटरिंग क्षेत्र में बड़ा बदलाव दिखेगा। इन क्षेत्रों में तकनीक भारी बदलाव जाएगा। यह सेक्‍टर फिलहाल अनआर्गेनाइज्‍ड सेक्‍टर हैं, जो आर्गनाइज्‍ड सेक्‍टर में बदल जाएंगे।

 

आर्गनाइज्‍ड मैन्‍युफैक्‍चरिंग और सर्विस सेक्‍टर में बढ़ेंगे रोजगार

रिपोर्ट के अनुसार आर्गनाइज्‍ड मैन्‍युफैक्‍चरिंग और सर्विस सेक्‍टर में रोजगार के मौके बढ़ेंगे। इस वक्‍त इन सेक्‍टर में 38 मिनियन लोगों को रोजगार‍ि मिला हुअा है जो 2022 तक बढ़कर 46 से 48 मिलियन तक हो जाएगा। इस रिपोर्ट को तैयार करने के पहले 130 बिजनेस लीडर्स, अकेडिमिशियन और इंडस्‍ट्री ऐसोसिएशन प्रतिनिधियों से सम्‍पर्क किया गया और उनके विचार जाने गए हैं।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट