Home » Economy » PolicyIndustrial production and retail inflation update news

इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन ने दिया झटका, रिटेल महंगाई मामूली बढ़कर 3.77% हुई

अगस्त में 4.3% रही IIP ग्रोथ, 3 महीने के निचले स्तर पर

Industrial production and retail inflation update news

 

नई दिल्ली. फ्यूल और फूड आइटम्स की कीमतें बढ़ने से सितंबर में खुदरा महंगाई (retail inflation) बढ़कर 3.77 फीसदी के स्तर पर पहुंच गई। हालांकि राहत की बात यह रही कि महंगाई अभी भी RBI के 4 फीसदी के लक्ष्य के भीतर ही बनी हुई है। वहीं अगस्त में इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन (IIP) ने तगड़ा झटका दिया, जो 4.3% की ग्रोथ के साथ तीन महीने के निचले स्तर पर पहुंच गया। सरकार ने शुक्रवार को इससे संबंधित आंकड़े जारी किए।

 

IIP ग्रोथ 3 महीने के निचले स्तर पर

माइनिंग आउटपुट में कमी से अगस्त में आईआईपी ग्रोथ को तगड़ा झटका लगा, जो 4.3 फीसदी के स्तर पर आ गई। सेंट्रल स्टैटिस्टिक ऑफिस (CSO) द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक कैपिटल गुड्ल की डिमांड में भी सुस्ती दर्ज की गई। वहीं बीते साल अगस्त की बात करें तो आईआईपी ग्रोथ 4.8 फीसदी रही थी। माइनिंग सेक्टर में प्रोडक्शन में 0.4 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई, जबकि बीते साल समान महीने में इसमें 9.3 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई थी। कैपिटल गुड्स आउटपुट ग्रोथ घटकर 5 फीसदी पर आ गई, जबकि बीते साल समान महीने में यह 7.3 फीसदी रही थी।

 

आरबीआई के लक्ष्य से कम है महंगाई  

इससे पिछले महीने यानी अगस्त में कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (CPI) आधारित खुदरा महंगाई 3.69 फीसदी के साथ 10 महीने के निचले स्तर पर थी। वहीं सितंबर, 2017 में यह आंकड़ा 3.28 फीसदी के स्तर पर रहा था।

हालांकि राहत की बात यह रही कि महंगाई का यह स्तर आरबीआई (RBI) के 4 फीसदी लक्ष्य से कम ही बना हुआ है। सीपीआई के आंकड़ों के मुताबिक, अनाज, मीट और मछली, अंडे, मिल्क प्रोडक्ट्स जैसी कैटेगरीज की कीमतों में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई।

 

 

सितंबर में फल हुए सस्ते 

हालांकि, सितंबर में फलों की महंगाई में कुछ नरमी देखने को मिली। कंज्यूमर फूड बास्केट की कुल महंगाई की बात करें तो इस में 0.51 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई, जबकि अगस्त में यह आंकड़ा 0.29 फीसदी रहा था। फ्यूल और लाइट कैटेगरी की कीमतों में सितंबर में 8.47 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट