Home » Economy » PolicyReport says India no longer a nation with world largest poor population

भारत में हर मिनट घट रहे 44 ‘अत्‍यंत गरीब’, सबसे ज्‍यादा गरीबों वाले देश की श्रेणी से निकला देश

भारत का अत्यंत गरीब आबादी वाला कलंक नाइजीरिया के हिस्से चला गया है।

Report says India no longer a nation with world largest poor population
 
नई दिल्ली. भारत में हर मिनट अत्‍यंत गरीब 44 लोग इस श्रेणी से बाहर निकल रहे हैं। यह जानकारी ब्रुकिंग्स के 'फ्यूचर डिवेलपमेंट' ब्लॉग में प्रकाशित यह रिपोर्ट में सामने आई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक अब भारत का अत्यंत गरीब आबादी वाला कलंक नाइजीरिया के हिस्से चला गया है। 
 
 
भारत में गरीबी घटने की रफ्तार सबसे तेज 
प्रति मिनट 44 भारतीय अत्यंत गरीब की श्रेणी से निकल रहे हैं, जिसे दुनिया में गरीबी घटने की सबसे तेज रफ्तार कहा जा रहा है। यदि इंडिया की ये रफ्तार कायम रही तो वह इसी साल इस दिशा में एक कदम और सुधर जाएगा। इस अध्ययन रिपोर्ट के मुताबिक अत्यंत गरीबी के दायरे में वह लोग आते हैं, जिसकी रोजाना की कमाई 1.9 डॉलर (करीब 125 रुपये) से कम होती है। स्टडी रिपोर्ट के अनुसार 2022 तक 3 प्रतिशत से भी कम भारतीय अत्‍यंत गरीब रह जाएंगे, जबकि 2030 तक देश से अत्यंत गरीबी का पूरी तरह सफाया हो जाएगा।  
 
 
नाइजीरिया में बढ़ रहे अत्‍यंत गरीब
स्टडी के मुताबिक मई 2018 के आखिर में भारत के 7 करोड़ 30 लाख लोग अत्यंत गरीब आबादी की श्रेणी में थे जो नाइजीरिया में 8 करोड़ 70 लाख अत्यंत गरीब लोगों के मुकाबले कम हैं। नाइजीरिया में जहां हर मिनट 6 लोग भीषण गरीबी की चपेट में जा रहे हैं, वहीं भारत में इनकी संख्या लगातार घट रही है।
 
 
वर्ल्‍ड बैंक ने भी की तारीफ 
भारत के गरीबी के आंकड़ों का विश्लेषण करते हुए वर्ल्ड बैंक ने बताया था कि 2004-2011 के बीच इंडिया में गरीबों की कुल आबादी 38.9 फीसदी से कम होकर 21.2 फीसदी पर आ गई। यानि अगर भारत का पिछले 10 सालों का रिकॉर्ड देखा जाए तो काफी तेजी से प्रगति हुई है। वर्ल्‍ड बैंक की स्टडी कहती है कि अफ्रीका में दुनिया के अत्यंत गरीब लोगों की दो तिहाई आबादी रहती है। अगर यही हाल रहा तो 2030 तक हर 10 में से 9 गरीब व्‍यक्ति वहीं रह रहे होंगे। 
 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट