बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyकहीं ज्यादा तो नहीं आ रहा बिजली का बिल, ऐसे करें खुद चेक

कहीं ज्यादा तो नहीं आ रहा बिजली का बिल, ऐसे करें खुद चेक

अगर आपके मन में भी अपने बिजली के बिल को लेकर कोई आशंका है, तो उसे खुद ही चेक कर सकते हैं।

1 of

 

नई दिल्‍ली. लोगों को अक्‍सर लगता है कि उनका बिजली का बिल ज्‍यादा आता है, लेकिन उनके पास इसे चेक करने का तरीका नहीं होता है। गर्मियों में बिजली के बिल को लेकर यह शंका कुछ ज्‍यादा ही होती है। अगर आपके मन में भी अपने बिजली के बिल को लेकर कोई आशंका है, तो उसे खुद ही चेक कर सकते हैं। यह तरीका काफी अासान है और इसके लिए किसी तकनीकी ज्ञान की जरूरत भी नहीं है। कोई भी यहां बताई विधि से खुद घर में बिजली का बिल सही आ रहा है या नहीं, यह पता लगा सकता है।

 

ये है जानने का तरीका

घरों में इस्‍तेमाल होने वाले हर उपकरण पर लिखा होता है कि वह कितने वॉट बिजली खर्च करता है। इसकी जानकारी एक जगह नोट कर लें, और फिर आगे बताए तरीके से जानें घर का बिजली का बिल कितना आना चाहिए।

 

जानें बिजली की खपत

- आम तौर पर घर में इस्‍तेमाल होने वाला टीवी 100 वॉट का होता है।

- अगर इसका रोज 10 घंटे इस्‍तेमाल होता है तो इसका मतलब हुआ कि रोज इसमें 1 यूनिट बिजली की खपत हुई।

- इस प्रकार महीने में 30 यूनिट बिजली की खपत हुई।

 

 

उपकरणों के औसत इस्‍तेमाल के आधार पर बिजली की खपत

 

उपकरण

वॉट

संख्‍या

यूनिट

कितने घंटे रोज इस्‍तेमाल

सीएफएल

15

4

10.8

6

ट्यूब लाइट

40

4

28.8

6

प्रेस

750

1

22.5

1

फ्रिज (165 liters)

150

1

108

24

एयर कंडीशनर (1.5 ton)

2650

1

636

8

कूलर

200

1

36

6

पंखा

75

2

36

8

वॉशिंग मशीन

400

1

12

1

टीवी

100

1

18

6

मिक्‍सर

500

1

15

1

माइक्रोवेव ओवन

1200

1

36

1

कम्‍प्‍यूटर

200

1

12

2

मच्‍छर भगाने की मशीन

9

2

6.48

12

पानी की मोटर  (1HP)

740

1

22

1

मोबाइल चार्जर

7

2

2.52

6

बिजली की महीने में खपत

   

1002.1

 
 

 

नोट : अलग-अलग घरों में बिजली के उपकरणों के इस्‍तेमाल के समय में थोड़ा बहुत अंतर हो सकता है। ऐसे में 100 वॉट का उपकरण 10 घंटे में एक यूनिट बिजली खर्च करता है, इस हिसाब से गणना करके उसकी बिजली की खपत निकाल सकते हैं।

 

 

यह भी पढ़ें : आपके AC का बिल हो जाएगा 20% कम, अगर कमरे में कर दें ये बदलाव

 

 

आगे पढ़ें : जानें बिजली बचाने के उपाए

 

 

 

AC के ऑफ टाइमर से बचा सकते हैं बिजली

 

सामान्‍य तौर पर घरों में 1.5 टन का एसी 8 घंटे चलता है। इस दौरान महीने भर में यह 636 यूनिट बिजली की खपत करता है। अगर इसका इस्‍तेमाल सिर्फ 1 घंटे कम कर दिया जाए तो बिजली की खपत 556.5 यूनिट रह जाएगी। यानी करीब 80 यूनिट बिजली की बचत होती है।

 

ज्‍यादातर एसी में ऑन और ऑफ टॉइमर होता है, लेकिन लोग इसका इस्‍तेमाल नहीं करते हैं। ऐसे में जब लोग सुबह सोकर उठते हैं, तभी एसी बंद किया जाता है। अगर ऑफ टाइमर का इस्‍तेमाल किया जाए सुबह सो कर उठने के 1 घंटे पहले का समय सेट कर सकते हैं। उस वक्‍त एसी बंद होने से कमरे में ठंडक पर कोई असर नहीं पड़ता है। इस एक घंटे एसी के इस्‍तेमाल घटने से 80 यूनिट बिजली की बचत आराम से की जा सकती है।

 

5 star रेटिंग वाले उपकरणों का करें इस्‍तेमाल

 

घरों में अगर 5 स्‍टार रेटिंग के बिजली के उपकरणों का इस्‍तेमाल किया जाए तो काफी बिजली की बचत हो सकती है। जानकारों की मानें तो इससे करीब 10 फीसदी की बिजली की खपत में कमी लाई जा सकती है। अगर साल भर का हिसाब लगाया जाए तो यह बचत पैसों के रूप में अच्‍छी खासी हो सकती है।

 

इसके अलावा थोड़ी बहुत बिजली की बचत इसकी बर्बादी रोक कर भी की जा सकती है। इस पर थोड़ा सा ध्‍यान दिया जाए तो भी बिजली की बचत हो सकती है। इसमें बिना जरूरत लाइट का जलाना, पंखा खुला छोड़ देना और अन्‍य ऐसे ही कारण होते हैं। घरों में बिजली के बोर्ड में जलने वाले लाल रंग के इंडीकेटर से भी बिजली की खपत होती है। इसीलिए यह जानना सबसे जरूरी है कि घर में इस्‍तेमाल होने वाले बिजली के उपकरणों का सही इस्‍तेमाल कैसे किया जाए। जरूरत खत्म होते ही उनको बंद कर दिया जाए।

 

अगर इन सबका ध्‍यान रखा जाए तो काफी बिजली की बचत हो सकती है, जिससे बिल को कम किया जा सकता है।

 

 

यह भी पढ़ें : गर्मी शुरू होने से पहले करें यह काम, बिजली जाने पर भी घर रहेगा ठंडा

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट