बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyब्रिटेन में अमीरों की लिस्‍ट में हिन्‍दुजा ब्रदर्स पहले से दूसरे नंबर पर आए, दूसरी लिस्‍ट में अकेले मुकेश अंबानी

ब्रिटेन में अमीरों की लिस्‍ट में हिन्‍दुजा ब्रदर्स पहले से दूसरे नंबर पर आए, दूसरी लिस्‍ट में अकेले मुकेश अंबानी

ब्रिटेन में आज जारी हुई एनुअल रिच लिस्‍ट में भारतीय मूूल के कारोबारी हिन्‍दुजा ब्रदर्स दूसरे स्‍थान पर आ गए हैं।

1 of

लंदन. ब्रिटेन में आज जारी हुई एनुअल रिच लिस्‍ट में भारतीय मूूल के कारोबारी हिन्‍दुजा ब्रदर्स दूसरे स्‍थान पर आ गए हैं। इनको कैमिकल के कारोबारी जिम रेटक्लिफ ने पीछे छोड़ा है। वहीं इस लिस्‍ट के साथ अलग से जारी दुनिया के 50 अमीरों की लिस्‍ट में मुकेश अंबानी जगह बनाने सफल रहे हैं। यह अकेले भारतीय हैं, जिन्‍होंने इस लिस्‍ट में जगह बनाई है। इनकी वैल्‍थ 31.7 अरब पाउंड आंकी गई है। 

 
 
संडे टाइम्‍स जारी करता है यह लिस्‍ट 
ब्रिटेन का अखबार संडे टाइम्‍स यह लिस्‍ट जारी करता है। इस लिस्‍ट के अनुसार 21.05 अरब पाउंड की वैल्‍थ के साथ रेटक्लिफ नबंर एक पर आ गए हैं। वहीं गोपीचन्‍द्र हिन्‍दुजा बंधुओं की वेल्‍थ 20.64 अरब पाउंड है। इस लिस्‍ट में 1000 अमीरों को शामिल किया गया है, जिनमें भारतीय भूल के 47 लोगों को जगह मिली है। 
 
 
ब्रिटेन बदल रहा है
संडे टाइम्‍स में लिस्‍ट जारी करते हुए रोबर्ट वाट्स ने लिखा है कि ब्रिटेन बदल रहा है। अब वह दिन चले जब ओल्‍ड मनी और स्‍मॉल कारोबारियों का ग्रुप यहां होता था। अखबार के अनुसार अब अरिस्‍टोक्रेट और विरासत में मिली दौलत वाले इस लिस्‍ट से बाहर हो रहे हैं और सेल्‍फ मेड कारोबारी आगे आ रहे हैं। 
 
 
18 स्‍थान ऊपर आए
अखबार ने जिम रेटक्लिफ के बारे में लिखा है कि वह बहुत ही नम्र स्‍वभाव के और सेल्‍फ मेड कैमिकल कारोबारी हैं। पिछले साल इस लिस्‍ट में उनका स्‍थान 18वां स्‍थान था, जो अब एक नबंर पर आ गए हैं। पिछले साल उनकी वैल्‍थ 15.3 अरब पॉउंड थी। 
 
 
दूसरे नबंर पर रहे हिन्‍दुजा बंधु
लंदन में बसे हुए गोपी और श्री फैमली कारोबार देखते हैं, जबकि उनके दो भाई प्रकाश और अशोल क्रमश जिनिवा और मुम्‍बई में रहते हैं। इस लिस्‍ट में दी जानकारी के अनुसार हिन्‍दुजा बंधुओं की वैल्‍थ में करीब 4.44 अरब पाउंड का इजाफा हुआ है, लेकिन वह अपनी नंबर एक की पो‍जीशन नहीं बचा सके। 
 
 
अशोका लैलेंड और इंडसइंड बैंक के शेयर्स बढ़ने का मिला फायदा
हिन्‍दुजा बंधुओं का कारोबार ऑयल गैसे से लेकर, आईटी, इनर्जी, मीडिया बैंकिंग और प्रॉपर्टी में फैला हआ है। भारत में अशोका लैलेंड और इंडसइंड बैंक इन्‍हीं का है। पिछले साल भारत की कंपनियों के शेयरों में क्रमश 49 और 27 फीसदी का इजाफा हुआ, जिससे इनकी वैल्‍थ तेजी से बढ़ी। 
 
 
मित्‍तल को पांचवां स्‍थान मिला 
इस लिस्‍ट में अमेरिकी ब्रिटिश कारोबारी सर लेन बलावांटनिक को 15.26 अरब पाउंड की वैल्‍थ के साथ तीसरा स्‍थान मिला है, जबकि भारतीय मूल के मित्‍तल को पांचवां स्‍थान मिला है। चौथे स्‍थान पर भारतीय मूल के डेेविड और सिमोन रूबिन रहे। इनकी वैल्‍थ 15.09 अरब पाउंड रही। मित्‍तल फैमली को 5वां स्‍थान मिला है। एक साल पहले इनका स्‍थान चौथा था। इस बार इनकी वैल्‍थ 14.66 अरब पाउंड रही। वहीं एक और भारतीय मूल के कारोबारी श्री प्रकाश लोहिया को इस लिस्‍ट में 25वां स्‍थान मिला। इनकी वैल्‍थ 5.15 अरब पाउंड रही। एक और भारतीय मूल के कारोबारी बावगुथू शैट्टी को इस लिस्‍ट में 59वां स्‍थान मिला। इनकी वैल्‍थ 2.38 अरब पाउंड आंकी गई। 
 

 
और भी भारतीय हैं इस लिस्‍ट में 
इस लिस्‍ट में 60वें नंबर पर सिमोन, बॉब्‍बी और रोबिन अरोरा हैं। इनकी वैल्‍थ 2.3 अरब पाउंड रही। बंगलुरू स्थित कंपनी बॉयोकॉन की को फाउंडर किरन मजूमदार शॉ और उनके स्‍कोटिश पति जॉन को 75वां स्‍थान मिला है। उनकी वैल्‍थ 1.75 अरब पाउंड रही। वहीं लार्ड स्‍वराजपाल की वैल्‍थ में अच्‍छी बढ़त दर्ज की गई है। एक साल में इनकी वैल्‍थ 840 मिलियन पाउंड बढ़कर 1.5 अरब पाउंड हो गई। इस प्रकार इनको 90वां स्‍थान मिला है। 
 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट