बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyआयुष्मान भारत हैल्‍थ स्‍कीम पर खर्च होंगे 10 हजार करोड़ रुपए, मिलेंगे 1347 पैकेज

आयुष्मान भारत हैल्‍थ स्‍कीम पर खर्च होंगे 10 हजार करोड़ रुपए, मिलेंगे 1347 पैकेज

आयुष्मान भारत नाम से शुरू होने वाली स्‍कीम के लिए सरकार ने 10 हजार करोड़ रुपए फंड आवंटित किया है।

1 of
 
नई दिल्‍ली. नैशनल हैल्‍थ प्रोटेक्‍शन मिशन के तहत ‘आयुष्मान भारत’ नाम से शुरू होने वाली स्‍कीम के लिए सरकार ने 10 हजार करोड़ रुपए का फंड आवंटित किया है। इस बात की जानकारी स्‍वास्‍थ मंत्री जेपी नड्डा ने दी है। यह आवंटन वित्‍तीय वर्ष 2018-19 के लिए किया गया है। उन्‍होंने बताया कि यह पैसा पूरी स्‍कीम के लिए रखा गया है इसमें प्रीमियम की राशि भी शामिल है। इस स्‍कीम के तहत लोगों को 1347 पैकेज मिलेंगे, जिनके तहत कई तरह की बीमारियों का इलाज कराया जा सकेगा।
 
 
इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर पर खर्च भी खर्च हो पैसा
उन्‍होंने बताया कि इस 10 हजार करोड़ रुपए में से कुछ पैसा इस स्‍कीम के लिए इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर तैयार करने में भी किया जाएगा। इसमें अाईटी सेटअप भी शामिल है। उनके अनुसार यह दुनिया की सबसे बड़ी सरकारी सहायत से चलते वाली हैल्‍थ केयर स्‍कीम है।
 
 
नीति आयोग ने लगाया है अनुमान
नीति आयोग इन इस स्‍कीम को लेकर वर्ष 2018-19 के बारे में अनुमान लगाया था कि प्रीमियम पर करीब 5 से 6 हजार करोड़ रुपए खर्च आएगा। इसमें से केन्‍द्र जहां 60 फीसदी वहीं राज्‍य सरकारें 40 फीसदी फंड का योगदान करेंगी। इस योजना के तहत 5 लाख रुपए का हेल्‍थ इंश्‍योरेंस देश के गरीब तबके के 10 करोड़ परिवारों को मिलेगा। नीति आयोग ने 2 फरवरी को अनुमान व्‍यक्‍त किया था कि इस स्‍कीम में 1000 रुपए से लेकर 1200 रुपए तक हो सकता है।
 
 
बजट में है 2 हजार करोड़ रुपए का आवंटन
हालांकि सरकार ने इस स्‍कीम के लिए बजट में 2 हजार करोड़ रुपए का ही प्रावधान किया है। नड्डा ने हालांकि कहा कि बाद में इस मद पैसों की मांग आने पर फंड का आवंटन बढ़ाया जाएगा।
 
 
इस योजना में 1347 पैकेज उपलब्‍ध होंगे 
इस स्‍कीम के तहत लोगों को 1347 पैकेज मिलेंगे, जिनके तहत कई तरह की बीमारियों का इलाज कराया जा सकेगा। हैल्‍थ सेकेट्री प्रीति सुडान के अनुसार इसमें कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों का इलाज भी शामिल होगा। इस योजना से जुड़े लोगों को इलाज के लिए कोई भी पैसा खर्च नहीं करना होगा, सारा इलाज इस स्‍कीम के तहत ही मिलेगा।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट