विज्ञापन
Home » Economy » PolicyModi Government did not ask for Urjit Patel resignation

सरकार ने उर्जित पटेल से नहीं मांगा इस्तीफा, जेटली ने दी सफाई

अरुण जेटली ने कहा कि सरकार ने चालू वित्त वर्ष के दौरान आरबीआई के कैपिटल रिजर्व से एक भी पैसा नहीं लिया है।

Modi Government did not ask for Urjit Patel resignation

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को कहा कि सरकार ने चुनिंदा सेक्टरों में लिक्विडिटी के मसले पर मतभेदों को लेकर रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर उर्जित पटेल से कभी भी इस्तीफा नहीं मांगा। उन्होंने एक कार्यक्रम के दौरान यह बात कही। गौरतलब है कि केंद्र सरकार और RBI के बीच बीते एक अरसे से टकराव की स्थिति है। हाल में उर्जित पटेल ने इस्तीफा भी दिया था।


  

नई दिल्ली. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को कहा कि सरकार ने चुनिंदा सेक्टरों में लिक्विडिटी के मसले पर मतभेदों को लेकर रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर उर्जित पटेल से कभी भी इस्तीफा नहीं मांगा। उन्होंने एक कार्यक्रम के दौरान यह बात कही। गौरतलब है कि केंद्र सरकार और RBI के बीच बीते एक अरसे से टकराव की स्थिति है। हाल में उर्जित पटेल ने इस्तीफा भी दिया था।

 

सरकार ने आरबीआई के रिजर्व से नहीं लिया एक भी पैसा

जेटली ने कहा कि सरकार ने चालू वित्त वर्ष के दौरान आरबीआई के कैपिटल रिजर्व से एक भी पैसा नहीं लिया है। इस महीने की शुरुआत में पटेल के अचानक इस्तीफे के बाद सरकार की आलोचना के सवाल पर उन्होंने कहा कि आरबीआई बोर्ड की मीटिंग में केंद्रीय बैंक के पास मौजूद रिजर्व के मुद्दे पर भी चर्चा हुई थी। उन्होंने कहा, ‘सरकार ने उनसे कभी भी इस्तीफा देने के लिए नहीं कहा।’

पटेल के इस्तीफे के बाद सरकार ने पूर्व ब्यूरोक्रेट शक्तिकांत दास को आरबीआई का गवर्नर नियुक्त किया था।  

 

रिजर्व फंड को लेकर था टकराव

वित्त मंत्रालय और आरबीआई के बीच आरबीआई के रिजर्व फंड को लेकर टकराव की स्थिति पैदा हो गई थी। सरकार चाहती थी कि आरबीआई अपना रिजर्व फंड सरकार को रिलीज कर दे जबकि आरबीआई इसके पक्ष में नहीं था। पटेल को वित्त मंत्रालय की स्टैंडिंग कमेटी भी कई बार तलब  कर चुकी थी। आरबीआई के गवर्नर रघुराम राजन के जाने के बाद मोदी सरकार ने पटेल का चयन किया था। लेकिन पिछले कुछ महीनों से पटेल के तेवर सरकार के साथ मेल नहीं खा रहे थे। पटेल का तीन साल का कार्यकाल सितंबर, 2019 में समाप्त हो रहा था।

 

 

पटेल ने क्या कहा था

इस्तीफे के मौके पर पटेल ने कहा था कि उन्होंने व्यक्तिगत वजहों से तत्काल प्रभाव से अपने पद से इस्तीफा देने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक में वर्षों तक कई पदों पर रहना उनके लिए सम्मान की बात रही है।

  उन्होंने कहा था कि हाल के वर्षों में आरबीआई स्टाफ, अधिकारियों और प्रबंधन के सपोर्ट और कड़ी मेहनत के दम पर हाल के वर्षों के दौरान उपलब्धियां हासिल करना संभव हुआ है। उन्होंने कहा, ‘इसके लिए मैं अपने साथियों और आरबीआई के सेंट्रल बोर्ड के डायरेक्टर्स के प्रति आभार प्रकट करता हूं। साथ ही सुनहरे भविष्य के लिए उन्हें शुभकामनाएं देता हूं।’
   
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss