Home » Economy » Policyrule about gold purchase

सोना खरीदने जा रहे हैं तो पैन कार्ड ले जाना नहीं भूलें, हो सकती है दिक्कत

डिक्लेयर्ड इनकम से खरीद सकते हैं कितना भी सोना

rule about gold purchase

नई दिल्ली। धनतेरस में आम तौर पर सोने और गहनों की खरीदारी करते हैं। पिछले कुछ सालों के दौरान केंद्र सरकार की सोने की बिक्री पर नजर रख रही है। इसका कारण यह है कि काले धन को खपाने के लिए भी लोग बड़े पैमाने पर सोने की खरीदारी करते हैं। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं कि धनतेरस में सोना खरीदने जा रहे तो किन बातों का ध्यान रखें जिससे आपको किसी तरह की कानूनी दिक्कतों का सामना न करना पड़े। 

 

2 लाख रुपए या इससे अधिक सोने की खरीदारी के लिए देना होगा पैन 

 

अगर आप 2 लाख रुपए या इससे कीमत के सोने की खरीदारी करते हैं तो आपको इसके लिए परमानेंट अकाउंट नंबर यानी (PAN) की डिटेल देनी होगी। पैन डिटेल देने का मतलब यह नहीं है कि आपको इस पर टैक्स देना होगा। यह सिर्फ आपकी पहचान के लिए है। 

 

डिक्लेयर्ड इनकम से खरीद सकते हैं कितना भी सोना 

 

अगर आप अपनी डिक्लेयर्ड इनकम से सोना खरीद रहे हैं तो इसके लिए कोई लिमिट नहीं है। आप अपनी डिक्लेयर्ड इनकम से कितना भी सोना खरीद सकते हैं। डिक्लेयर्ड इनकम का मतलब उस इनकम से है जो आपने इनकम टैक्स रिटर्न में डिक्लेयर की है। 

 

अगर नहीं बताए सोना खरीदने का सोर्स तो जब्त हो जाएगा सोना 

 

अगर किसी व्यक्ति के घर पर इनकम टैक्स विभाग की रेड पड़ती है और उसके घर में सोना मिलता है तो उसे यह बताना होगा कि यह सोना उसने अपनी इनकम से खरीदा है। अगर इनकम टैक्स विभाग को लगता है कि सोने की मात्रा उस व्यक्ति की इनकम से मैच नहीं करती है या वह यह व्यक्ति साबित नहीं कर पाता है कि सोना उसने अपनी वैध इनकम से खरीदा है तो इनकम टैक्स विभाग यह सोना जब्त भी कर सकता है। 

 

 

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट