बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policy35 करोड़ रुपए में सर्विस टैक्‍स विभाग ने बेचा माल्‍या का लग्‍जरी जेट, 800 करोड़ रुपए है बकाया

35 करोड़ रुपए में सर्विस टैक्‍स विभाग ने बेचा माल्‍या का लग्‍जरी जेट, 800 करोड़ रुपए है बकाया

भगोड़े कारोबारी विजय माल्‍या का लग्‍जरी जेट आखिरकार बेचने में सर्विस टैक्‍स विभाग को सफलता मिल ही गई।

service tax authorities managed to get a buyer for luxury jet of Vijay Mallya
 
मुम्‍बई. देश छोड़ कर भाग चुके कारोबारी विजय माल्‍या का लग्‍जरी जेट बेचने में आखिरकार सर्विस टैक्‍स विभाग को सफलता मिल ही गई। मार्च 2016 से इस लग्‍जरी जेट को बेचने की 4 कोशिशें हो चुकी थीं, जो नाकाम रहीं। पिछले शुक्रवार को अमेरिकी शहर फ्लोरिडा की कंपनी एविएशन मैनेजमेंट सेल्‍स ने इसके लिए 34.8 करोड़ रुपए (5.05 मिलियन डॉलर) की बोली लगाई, जो सबसे ज्‍यादा की थी।
 
इसी जेट से माल्‍या दुनियाभर में करता था बिजनेस डील्‍स
सर्विस टैक्‍स विभाग ने विजय माल्‍या का लग्‍जरी जेट A319 जब्‍त कर लिया था। एक समय में विजय माल्‍या इसी जेट से दुनियाभर में घूमता था और बड़ी-बड़ी बिजनेस डील्‍स करता था। लेकिन विजय माल्‍या की किंगफिशर एयरलाइंस के ऊपर सर्विस टैक्‍स विभाग का करीब 800 करोड़ रुपए बकाया हो गया तो उसने माल्‍या का निजी प्‍लेन जब्‍त कर लिया था।
 
ई-आक्‍शन से बिका जेट
सर्विस टैक्‍स विभाग ने इस जेट को बेचने के लिए पिछले शुक्रवार को ई-आक्‍शन का सहारा लिया था। यह आक्‍शन कर्नाटक हाईकोर्ट के आदेश के बाद किया गया। माल्‍या का यह विमान मुम्‍बई एयरपोर्ट के हैंगर में खड़ा है। एयरपोर्ट ने इस लग्‍जरी विमान को 2013 में ही जब्‍त कर लिया था। हालांकि यह डील मुम्‍बई हाई कोर्ट के आदेश के बाद ही पूरी हो पाएगी।
 
मार्च 2016 में पहली बार लगी थी बोली
विभाग ने इस जेट के लिए पहली बार नीलामी की प्रक्रिया मार्च 2016 में शुरू की थी। उस वक्‍त इसका रिजर्व प्राइज 152 करोड़ रुपए त‍य किया गया था। हालांकि उस समय इसके लिए केवल 1.09 करोड़ रुपए की बोली मिली थी, जिसके बाद इस प्रक्रिया को कैंसल कर दिया गया। बाद में तीन बार और कोशिश की गई लेकिन यह सफल नहीं हो सकीं।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट