Home » Economy » PolicyEPFO Rs 47000 cr ETF investments earn more than 16 per cent return

EPFO को मिला ETFs से 16 फीसदी रिटर्न, 47 हजार करोड़ रु का है निवेश

रिटायरमेंट फंड बॉडी EPFO को एक्‍सचेंज ट्रेडिड फंड (ETFs) से मई तक 16.07 का रिटर्न मिला है।

EPFO Rs 47000 cr ETF investments earn more than 16 per cent return
नई दिल्‍ली. रिटायरमेंट फंड बॉडी EPFO को एक्‍सचेंज ट्रेडिड फंड (ETFs) से मई तक 16.07 फीसदी का रिटर्न मिला है। EPFO ने इन फंड्स में 47431 करोड़ रुपए का निवेश कर रखा है। EPFO के एक अधिकारी के अनुसार यह रिटर्न नोशनल है, क्‍योंकि यह पैसा निवेशक को तभी मिलेगा जब वह अपने फंड को निकालेगा।
 
 
31 मई तक है 47 हजार करोड़ से ज्‍यादा का निवेश
EPFO ने इस साल 31 मई तक ETFs में 47,431.24 करोड़ रुपए का निवेश कर रखा है। इस निवेश पर उसे 16.07 फीसदी का रिटर्न मिला है। EPFO ने स्‍टॉक मार्केट में अगस्‍त 2015 से निवेश करना शुरू किया था। शुरुआत में नियम बना था कि EPFO अपने फंड का 5 फीसदी तक हिस्‍सा स्‍टॉक मार्केट में निवेश करेगा। बाद में 2016-17 में इस सीमा को बढ़ाकर पहले दस फिर 2017-18 में 15 फीसदी कर दिया गया।
 
सबसे ज्‍यादा रिटर्न UTI MF ने दिया
EPFO स्‍टॉक मार्केट में कई कंपनियों के माध्‍यम से निवेश करता है। मई तक उसे सबसे ज्‍यादा UTI म्‍युचुअल फंड से 17.01 फीसदी का रिटर्न मिला है। UTI म्‍युचुअल फंड  में निवेश की वैल्‍यू बढ़कर 8,995.04 करोड़ रुपए हो गई है। इसके बाद SBI म्‍युचुअल फंड का रिटर्न रहा है। इसने 16.07 फीसदी का रिटर्न दिया है और यहां पर निवेश की वैल्‍यू 34,603.64 करोड़ रुपए हो गया है।
 
CPSE ETF से ज्‍यादा मिला रिटर्न
वहीं CPSE ETF ने केवल 7.94 फीसदी का रिटर्न दिया है। इस फंड में 1,860.81 करोड़ रुपए का निवेश है। इसके अलावा Bharat 22 ETF ने 8.46 फीसदी का रिटर्न दिया है। इस फंड में 2,024.75 करोड़ रुपए का निवेश है।
 
निवेशकों के अकाउंट से जुड़ेगा स्‍टॉक मार्केट का इन्‍वेस्‍टमेंट
EPFO योजना बना रहा है कि ETF में इन्‍वेस्‍टमेंट को PF अकाउंट होल्‍डर से खाते से जोड़ दिया जाए। इसके बाद निवेशक के पास आप्‍शन होगा कि वह अपना निवेश स्‍टॉक मार्केट में घटा या बढ़ा सके। इस सबंध में EPFO ट्रस्‍टी पहले ही अकाउंटिंग पॉलिसी को अप्रूव कर चुका है। इसको लेकर सॉफ्टवेयर को लेकर टेस्टिंग चल रही है।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट