बिज़नेस न्यूज़ » Economy » PolicyCAG का खुलासा: FSSAI ने बिना डॉक्‍यूमेंट दिए फूड लाइसेंस, 65 लैब बेकार

CAG का खुलासा: FSSAI ने बिना डॉक्‍यूमेंट दिए फूड लाइसेंस, 65 लैब बेकार

सीएजी ने FSSAI को बिना पूरे दस्‍तावेजों के फूड बिजनेस चलाने वालों को लाइसेंस देने को लेकर खिंचाई की है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. सीएजी ने फूड एंड स्‍टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया (FSSAI) को बिना पूरे दस्‍तावेजों के फूड बिजनेस चलाने वालों को लाइसेंस देने को लेकर खिंचाई की है। इसी के साथ सीएजी ने सवाल उठाया है कि देश में इस वक्‍त देश में 72 टेस्टिंग लैब काम कर रही हैं, जिनमें से 65 NABL से मान्‍यता प्राप्‍त नहीं हैं।

 

अनसेफ फूड प्रॉडक्‍ट के आयात को लेकर भी खिंचाई की

सीएजी ने FSSAI की इस बात को लेकर भी खिंचाई की है कि वह देश में अनसेफ फूड प्रॉडक्‍ट को आयात करने में नाकाम रहा। CAG ने विभाग की परफार्मेंस जांचने के लिए की गई ऑडिट के बाद यह जानकारी एक रिपोर्ट में दी है। सीएजी ने फूड सेफ्टी एंड स्‍टैंडर्ड एक्‍ट 2006 को विभाग में किस तरह लागू किया, इसको जांचा था।

 

ऑडिट में मिली खामियां

सीएजी ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि सिस्‍टेमैटिक इनइफीशियंसी, नियमों को लागू तैयार करने में देरी और सुप्रीम कोर्ट के दिशनिर्देशों के हिसाब से काम नहीं हो पाया है। रिपोर्ट में बताया गया है कि बिना पूर्ण दस्‍तावेजों के लाइसेंस जारी किए गए हैं। सीएजी के टेस्‍ट चेक के दौरान करीब 50 फीसदी मामलों में ऐसा पाया गया है।

 

3119 केस में नहीं पूरे दस्‍तावेज

टेस्‍ट चेक 5 राज्‍यों और 3 केन्‍द्र की लाइसेंस अथॉरिटी एरिया में 5915 मामलों में 3119 मामलों में पाया गया कि बिना पूर्ण दस्‍तावेज के लाइसेंस जारी किए गए हैं।

 

फूड लैबोरेटरीज  में भी अनियमितताएं

रिपोर्ट में फूड लैबोरेटरीज में भी अनियमितताआें की बात कही गई है। रिपोर्ट के अनुसार 72 स्‍टेट फूड लैबोरेटरीज में से 65 लैब को नेशनल अक्रेडिएशन बोर्ड फॉर टेस्टिंग एंड कैलीब्रेशन लैबोरेटरीज (एनएबीएल) से मान्‍यता नहीं मिली है। इन लैब में फूड के सेंपल टेस्‍ट करने के लिए भेजे जाते हैं। इस कारण यहां पर होने वाले टेस्‍ट की गुणवत्‍ता को सही माना जा सकता है। रिपोर्ट के अनुसार इन लैब में पूरे उपकरण नहीं हैं। 16 लैब में जांच के दौरान पाया गया कि 15 में क्‍वालिफाइड फूड एनॉलिस्‍ट नहीं हैं।

 

 

यह भी पढ़ें : ये हैं 5 ब्रांडेड रूम हीटर, कीमत 1 हजार रुपए से शुरू

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट