बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyगुजरात चुनाव के पहले महंगी नहीं हुई रसोई गैस, 17 माह में 76 रुपए बढ़ चुके हैं रेट

गुजरात चुनाव के पहले महंगी नहीं हुई रसोई गैस, 17 माह में 76 रुपए बढ़ चुके हैं रेट

रसोई गैस के दाम 19 बार में 76.5 रुपए बढ़ चुके हैं। यह बढ़त 17 माह के दौरान हुई है।

1 of


नई दिल्‍ली. रसोई गैस के दाम पिछलेे 17 माह में 76.5 रुपए बढ़ चुके हैं। यह बढ़त 19 बार में की गई है। माना जा रहा है कि इस बार गुजरात चुनाव के पहले रेट का रिवीजन नहीं किया गया। चारों पेट्रोलियम कंपनियां हर माह की पहली तारीख को रेट का रिवीजन करती हैं। यह व्‍यवस्‍था पिछले साल जुलाई से चल रही है, लेकिन इस बार रसोई गैस के दाम का रिजीवन नहीं किया गया है। हालांकि नॉन सब्सिडी वाले सिलेंडर का रेट 1 दिसंबर को 5 रुपए बढ़ाया गया है। इस बढ़ोत्‍तरी से के साथ अब नॉन सब्सिडी वाला सिलेंडर 747 रुपए का हो गया है।

 

यह भी पढ़ें : पहली सैलरी से बनाएं 1 लाख का फंड, ये हैं 3 बेस्ट ऑप्शन

 

 

1 दिसबंर को नहीं किया रिविजन
एक पेट्रोलियम कंपनी के उच्‍च अधिकारी के अनुसार इस बार 1 दिसबंर को रसोई गैस के दाम का रिवीजन नहीं किया गया है। हालांकि इस अधिकारी के अनुसार वह यह नहीं जानते हैं कि इसका कारण क्‍या है। हालांकि यह रुटीन का मैनेजमेंट का डिसिजन होता है। जब इस अधिकारी से यह पूछा गया कि क्‍या यह गुजरात चुनाव के चलते हुआ, तो उसने ऐसी किसी जानकारी से इनकार किया।

 

 

नवंबर में बढ़े थे प्रति सिलेंडर 4.50 रुपए
इस साल नवंबर को प्रेट्रोलियम कंपनियों की तरफ से प्रति सिलेंडर 4.50 रुपए की बढ़ोत्‍तरी की गई थी। इस बढ़त के साथ सिलेंडर 495.69 रुपए का हो गया था।

 

 

सरकार ने दी थी ऑयल कंपनियों को रेट रिवीजन की छूट
पिछले साल सरकार ने ऑयल एंड गैस कंपनियों को रेट रिवीजन की छूट दी थी। सरकार ने कहा था कि मार्च 2018 तक सब्सिडी को पूरी तरह से खत्‍म कर दिया जाएगा। जब से यह फैसला हुआ है 14.2 किलो वाले सिलेंडर के दाम 76.51 रुपए बढ़ चुके हैं। इन सिलेंडर की कीमत जून 2016 में 419.18 रुपए थी।

 

 

हर साल मिलती है 12 सिलेंडर पर सब्सिडी
सरकार के फैसले के अनुसार हर हाउसहोल्‍ड को साल में 12 सिलेंडर लेने पर सब्सिडी मिलती है। इससे ज्‍यादा सिलेंडर लेने पर लोगों को सिलेंडर का बाजार भाव देना होता है। मंत्रालय के पेट्रोलियम प्‍लानिंग एंड एलॉलेसिस सेल (PPAC) के अनुसार हर सिलेंडर पर 251.31 रुपए की सब्सिडी दी जाती है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट