विज्ञापन
Home » Economy » PolicyAbdul Karim Telgi acquitted in fake stamp paper scam

मौत के एक साल बाद बरी हुआ तेलगी, करोड़ों के स्टैम्प पेपर घोटाले में था आरोपी

करोड़ों के स्टैम्प पेपर घोटाले का आरोपी अब्दुल करीम तेलगी को मौत के लगभग एक साल बाद कोर्ट ने बरी कर दिया है।

Abdul Karim Telgi acquitted in fake stamp paper scam
हजारों करोड़ रुपए के स्टैम्प पेपर घोटाले का आरोपी अब्दुल करीम तेलगी को मौत के लगभग एक साल बाद कोर्ट ने बरी कर दिया है। नासिक की एक कोर्ट ने सोमवार को अपना फैसला सुनाया। गौरतलब है कि लगभग 20 हजार करोड़ रुपए के घोटाले के आरोपी तेलगी की अक्टूबर, 2017 में मृत्यु हो गई थी। वह ब्रेल फीवर से जूझ रहा था।

 

नई दिल्ली. हजारों करोड़ रुपए के स्टैम्प पेपर घोटाले का आरोपी अब्दुल करीम तेलगी को मौत के लगभग एक साल बाद कोर्ट ने बरी कर दिया है। नासिक की एक कोर्ट ने सोमवार को अपना फैसला सुनाया। गौरतलब है कि लगभग 20 हजार करोड़ रुपए के घोटाले के आरोपी तेलगी की अक्टूबर, 2017 में मृत्यु हो गई थी। वह ब्रेल फीवर से जूझ रहा था।

 

नासिक की अदालत ने किया बरी

नासिक की अदालत ने मौत के लगभग एक साल बाद स्टैम्प पेपर घोटाले से बरी कर दिया। तेलगी को नवंबर 2001 में अजमेर से गिरफ्तार किया गया था और वह 20 साल से एड्स, डायबिटीज, हायपरटेंशन सहित कई अन्य बीमारियों से पीड़ित भी था। उसको घोटाले में 30 साल की सजा दी गई थी। तेलगी बेंगलुरु की परप्पाना अग्रहारा सेंट्रल जेल में कठोर कारावास की सजा काट रहा था।

 

202 करोड़ रु का लगा था जुर्माना

सजा के साथ अब्दुल करीम तेलगी पर 202 करोड़ रुपए का जुर्माना भी लगाया गया था। हालांकि तेलगी उस समय विवादों में घिर गया था, जब पूर्व डीआईजी (जेल) डी रूपा ने आरोप लगाया था कि अधिकारी उसे जेल में काफी सुविधाएं मुहैया करा रहे हैं। तेलगी की अक्टूबर 2017 में बेंगलुरु के एक अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन