Home » Economy » Policy5,000 restaurants out of list from online food delivery platform

स्विगी, जोमैटो, फूडपांडा, उबरईट्स ने 5,000 रेस्तरां को अपने लिस्ट से किया बाहर

खराब भोजन परोसे जाने की वजह से लिया फैसला

5,000 restaurants out of list from online food delivery platform

नई दिल्ली। आॅनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफार्म स्विगी, जोमैटो, फूडपांडा, उबरईट्स सहित कई प्लेटफार्मों ने 5,000 रेस्तरांओं को अपने लिस्ट से बाहर निकाल दिया है। भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (FSSAI) की मंजूरी नहीं होने की वजह से इन रेस्तरांओं को हटा दिया गया है।

खराब भोजन परोसे जाने की शिकायत

FSSAI को शिकायत मिली थीं कि इन प्लेटफार्मों पर खराब भोजन परोसे जातें हैं। इसके बाद जुलाई में नियामक ने प्लेटफार्मों को निर्देश दिया था कि वे बिना लाइसेंस वाले रेस्तरांओं से खाने-पीने के सामान की आपूर्ति रोकने को कहा था। FSSAI के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) पवन अग्रवाल ने बताया कि, 5,000 से अधिक रेस्तरांओं की फूड क्वालिटी खराब होने की वजह से ई-कामर्स फूड सर्विस प्लेटफार्म से हटा दिया गया है। FSSAI ने फूड डिलीवरी के आॅनलाइन प्लेटफार्मों को यह निर्देश दिया कि वे खाद्य नियामक से लाइसेंस नहीं  प्राप्त करने वाले रेस्तरांओं को हटा दिया जाएं।

इन प्लेटफार्मों से हटाएं गए रेस्तरां

स्विगी, जोमैटो, फूडपांडा, उबरईट्स के अलावा जिन प्लेटफार्मों से 5,000 रेस्तरांओं को हटाया गया उनमें शामिल हैं बॉक्स8, फासोस, फूडक्लाउड, फूडमिंगो, जसफूड, लाइमट्रे।

जोमैटो फूड डिलीवरी के सीईओ मोहित गुप्ता का कहना है, हमने देश के 41 शहरों के हजारों रेस्तारांओं को अपने लिस्ट से निकाल दिया है। हम इन रेस्तारांओं को तभी अपने लिस्ट में दोबारा एड करेंगे जब ये रेस्तरां अपना लाइसेंस का ब्योरा हमे देंगे। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट