Advertisement
Home » इकोनॉमी » पॉलिसीYou will be able to manage your data yourself, what is this project

नहीं होगी डाटा की चोरी, अब आप अपने डाटा को खुद मैनेज कर सकेंगे और जरूरत पड़ने पर बेच पाएंगे, जानिए क्या है यह प्रोजेक्ट

यूजर अपने डाटा पर कर पाएंगे कंट्रोल, कब कितना डाटा खर्च करना है सबकुछ बताएगा

1 of

नई दिल्ली। आज की तारीख में मोबाइल और कम्प्यूटर इस्तेमाल करने वाले लोगों के डाटा की सुरक्षा बड़ा मुद्दा है। सोशल नेटवर्किंग बेवसाइटों के साथ कई तरह के एप  पर यूजर का डाटा चुरने और अपने फायदे के लिए इस्तेमाल करने के आरोप लगते रहते हैं। ऐसे में माइक्रोसाॅफ्ट ऐेसे प्रोजेक्ट पर काम कर रहा है जो हर यूजर को उससे जुड़े डाटा पर पूरा कंट्रोल देगा। माइक्रोसाॅफ्ट के इस प्रोजेक्ट का नाम ‘बाली’ है। टेक्नोलाॅजी से जुड़े पोर्टल जेडडी-नेट ने इसका खुलासा किया है।

 

 ऐसे काम करेगा प्रोजेक्ट बाली

प्रोजेक्ट बाली के तहत ऐसा इकोसिस्टम डेवलप किया जा रहा है जो अभी चलन में मौजूद इनवर्स प्राइवेसी से यूजर को बचाएगा। इनवर्स प्राइवेसी का मतलब ऐसे डाटा से है जो हमारे लिए प्राइवेट है लेकिन उन पर हमारा नियंत्रण नहीं होता है। इसे इस तरह से समझ सकते हैं कि मोबाइल ओर कम्प्यूटर इस्तेमाल करने के साथ-साथ, वर्क प्लेस, शाॅपिंग सेंटर, अस्पताल व अन्य जगहों पर हमारी डिजिटल एक्टिविटीज कई तरह के डाटा जनरेट होते हैं। ये डाटा काम करने के हमारे तरीके, शॅापिंग की पसंद, दवाओं की जरूरत व अन्य से जुड़े होते हैं। कोई कंपनी इन डाटा की मदद से यूजर के मुताबिक पर्सनलाज्ड और कस्टमाइज्ड प्रोडक्ट तैयार कर सकता है।

Advertisement

प्रोजेक्ट बाली यूजर के डाटा पर इतना कंट्रोल देगा कि वह इसे खुद मैनेज और शेयर कर सकेंगे। साथ ही यूजर अपने डाटा को मोनोटाइज भी कर सकता है यानी आप चाहे तो अपने डाटा को खुद बेच सकते हैं।

 

 

दुनिया में 2.5 अरब जीबी डाटा रोज जनरेट होता है

 

आज के समय में रोजाना 2.5 अरब जीबी डाटा जनरेट होता है। अब तक जितने डाटा जनरेट हुए उसका 90 फीसदी पिछले तीन साल में जनरेट हुए हैं। दुनियाभर की कंपनियां अपने प्राडक्ट या सर्विस को बेहतर बनाने के लिए यूजर्स के डाटा की तलाश में रहती है। इसके लिए वे बड़ी राशि भी खर्च करती है।

 

 

 

 

अभी नहीं है अधिकारिक घोषणा

 

फिलहाल माइक्रोसाफ्ट की तरफ से प्रोजेक्ट बाली को लेकर अभी तक कोई अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement