विज्ञापन
Home » Economy » PolicyVideocon case: ED raids Videocon office, Kochhar’s residence

ICICI-Videocan Case: छापेमारी के बाद ईडी ने कोचर दंपति से की पूछताछ

वीडियोकॉन प्रमुख को फिर तलब कर सकते हैं ईडी अधिकारी, छापे में मिले सबूतों को मिलान करेंगे अफसर

Videocon case: ED raids Videocon office, Kochhar’s residence

 


नई दिल्ली। गलत तरीके से कर्ज बांटने के आरोप में फंसी आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व चेयरमैन प्रमुख चंदा कोचर और उनके पति दीपक कोचर पर लगातार दूसरे दिन शनिवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शिकंजा कसा। छापे के बाद ईडी के अफसरों ने दोनों को शनिवार को अपने दफ्तर तलब किया और लंबी पूछताछ की। पूछताछ में यह पता करने की कोशिश की गई कि किस तरह चंदा ने अपने पति को फायदा पहुंचाने के लिए वीडियोकॉन को कर्ज देने में मदद की। इसमें कितने पैसे का लेनदेन हुआ और इसके सबूत क्या हैं?


कोचर दंपति जिस मामले में फंसे हैं, उसमें ईडी अफसर वीडियोकॉन कंपनी के प्रमुख वेणुगोपाल से भी संभवत: आज शाम को फिर पूछताछ करेंगे। शुक्रवार को भी वेणुगोपाल धूत को बुलाया गया था। पूछताछ के बाद रात में वेणुगोपाल धूत को जाने दिया गया था। इससे पहले तीनों के ही घर पर ईडी अफसरों ने छापे मारे थे।


कभी महिला सशक्तिकरण का सिंबल रही चंदा कोचर उस समय विवाद में आई जब उन्होंने अपने पति को फायदा पहुंचाने के लिए बैंक से वीडियोकॉन को लोन पास करवाया। आरोप है कि चंदा कोचर के कार्यकाल में विडियोकॉन ग्रुप और उससे संबद्ध कंपनियों के लिए 1875 करोड़ रूपये के छह लोन को मंजूरी दी गयी। इसमें से दो मामलों में वह मंजूरी देने वाली कमेटी में खुद भी थीं। इसके एवज में वीडियोकॉन ने चंदा के पति दीपक को फायदा पहुंचाया। ईडी ने चंदा कोचर, दीपक कोचर, धूत और अन्य के खिलाफ इस साल की शुरुआत में प्रीवेंशन ऑफ मनी लांडरिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत एक आपराधिक मामला दर्ज किया है। जबकि सीबीआई ने भी प्राथमिकी दर्ज की है। 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन