विज्ञापन
Home » Economy » PolicyKumbh mela 2019

यूपी में लग गया कमाई का महाकुंभ, डेली सरकार को मिलेगा 2555 करोड़

47 दिन में यूपी को मिल जाएगा 1.2 लाख करोड़

1 of

नई दिल्ली. धार्मिक आस्था के प्रतीक प्रयागराज कुंभ में लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं।इसमें देशी और विदेशी दोनों श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रहती है। ऐसे में 47 दिनों तक चलने वाले इस मेले से बड़ा रोजगार पैदा होता है। साथ ही सरकार को काफी राजस्व प्राप्त होता है। इस बार के कुंभ मेले से यूपी को उसके बजट एक चौथाई कमाई होगी। 

 

6 लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

इंडस्ट्री बॉडी कन्फेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री (CII) के मुताबिक इस आयोजन से उत्तर प्रदेश को 1.2 लाख करोड़ रुपए के राजस्व की प्राप्ति होगी। साथ ही 6 लाख लोगों को रोजगार भी मिलेगा। उत्तर प्रदेश सरकार ने इस बार के कुंभ मेले के लिए 4,200 करोड़ रुपये का आवंटन किया है, जोकि 2013 महाकुंभ मेले की तुलना में तीन गुना अधिक है। यह अब तक का सबसे महंगा कुंभ है। कुंभ मेले का परिसर भी इस बार पिछली बार के मुकाबले करीब दोगुने वृद्धि के साथ 3,200 हेक्टेयर है। 2013 में इसका फैलाव 1,600 हेक्टेयर तक था। 

किस सेक्टर में कितनी नौकरियां 

CII की स्टडी के मुताबिक, हॉस्पिटैलिटी सेक्टर में 2.5 लाख लोगों को रोजगार मिलेगा तो एयरलाइन्स और एयरपोर्ट्स पर करीब 1.5 लाख लोगों के लिए अवसर पैदा होंगे। इसके अलावा टूर ऑपरेटर्स 45 हजार लोगों को काम पर रखेंगे। इको टूरिजम और मेडिकल टूरिजम में 85 हजार को रोजगार मिलेगा। टूर गाइड्स, टैक्सी ड्राइवर्स, उद्यमी सहित असंगठित क्षेत्र में 50 हजार नई नौकरियां उत्पन्न होंगी। इससे सरकारी एजेंसियों और व्यापारियों की कमाई बढ़ेगी।

 

 

नाव चलाकर होती है 1 लाख तक कमाई 

एक रिपोर्ट के मुताबिक कुंभ मेले में श्रद्धालुओं से नाव चालक एक ट्रिप के 600 से ज्यादा रुपए चार्ज करता है, जो कि अधिकतम 18000 रुपए तक हो सकते हैं। इससे आमतौर पर एक नाव चालक कुंभ के दौरान 1 लाख तक की कमाई कर लेता। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss