विज्ञापन
Home » Economy » PolicyThis menu served at the reception of the Saudi Prince

सऊदी प्रिंस के स्वागत में परोसा गया रोगन जोश, तंदूरी गुलाबी मच्छी और कीमा, यह रहा पूरा मेन्यू

केसरिया बालम पधारो और लग जा गले गानों से हुआ स्वागत

1 of

नई दिल्ली। भारत की यात्रा पर आए सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान शानदार अगवानी पीएम मोदी ने की। क्राउन प्रिंस के स्वागत में भव्य दावत का अयोजन किया गया था। इसमें प्रिंस के लिए रोगन जोश, तंदूरी गुलाबी मच्छी और कीमा समोसा परोसा गया। वहीं वेजिटेरियन खाने में दाल मखनी, बदीन-ए-जाम और कुरकुरी तिल भिण्डी, गोलगप्पे, रवा टोस्ट, पालक चीज समोसे, पनीर काली मिर्च शामिल था। इसके साथ ही मीठे में केसर जलेबी, गुलाब जामुन और फालूदे के साथ शाही कुल्फी शामिल थी। लंच में दार्जिलिंग की चाय, दक्षिण भारतीय कॉफी और कहवा सर्व किया गया।

 

 

सरोद कॉन्सर्ट का भी आयोजन कराया गया

लंच के साथ-साथ प्रधानमंत्री की ओर से सरोद कॉन्सर्ट का भी आयोजन कराया गया था। इसमें वैष्णव जन तो तेने कहिये, केसरिया बालम पधारो म्हारो देश, मोहे पनघट पे नंदलाल और लग जा गले समेत कुल 12 गानों का वादन हुआ। बता दें भारत यात्रा पर आए सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान का बुधवार को राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आधिकारिक स्वागत किया गया। 

भारत और अरब प्रायद्वीप के बीच दोस्ती हमारे डीएनए में है

क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने कहा कि भारत और अरब प्रायद्वीप के बीच दोस्ती हमारे डीएनए में है। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि दोनों देशों के संबंध में और सुधार हो। राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हम सऊदी अरब और भारत के बीच अच्छी बात की उम्मीद कर सकते हैं। बता दें कि क्राउन प्रिंस अपनी पहली आधिकारिक भारत यात्रा पर आए हैं। क्राउन प्रिंस पाकिस्तान दौरे के बाद मंगलवार शाम यहां पहुंचे। प्रोटोकॉल को तोड़ते हुए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हवाई अड्डे पर उनका स्वागत किया। वहीं आज मोहम्मद बिन सलमान का राष्ट्रपति भवन में पारंपरिक स्वागत किया गया जहां उन्होंने सलामी गार्ड का निरीक्षण किया। इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री मोदी मौजूद थे।

 

पुलवामा आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा

मंत्रालय के एक बयान में कहा गया है कि सऊदी अरब ने पुलवामा में 14 फरवरी को सुरक्षा बलों पर आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा की। इसमें कहा गया है कि सऊदी अरब ने आतंकवाद से जुड़ी हमारी चिंताओं के प्रति गहरी समझ दिखाई है और उसने इस वैश्विक बुराई से निपटने में भारत के साथ मिलकर काम करने पर सहमति जताई है।

 

 

दोनों देशों के बीच 27.48 अरब डॉलर का कारोबार

भारत और सऊदी अरब का द्विपक्षीय कारोबार साल 2017-18 में 27.48 अरब डालर रहा है। सऊदी अरब, भारत का चौथा सबसे बड़ा कारोबारी सहयोगी है। सऊदी अरब ऊर्जा सुरक्षा के क्षेत्र में भारत के लिये एक महत्वपूर्ण स्रोत है जो कच्चे तेल के संबंध में 17 प्रतिशत जरूरतों की आपूर्ति करता है। पाकिस्तान भले ही सऊदी अरब का करीबी दोस्त बन गया हो, लेकिन असल में सऊदी अरब से व्यापार के मामले में भारत उससे काफी आगे है। भारत-सऊदी अरब का द्व‍िपक्षीय व्यापार पाकिस्तान-सऊदी अरब के मुकाबले 15 गुना ज्यादा है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन