विज्ञापन
Home » Economy » PolicyThis group will help up to Rs 50 lakh to start startup

स्टार्टअप शुरू करने के लिए 50 लाख रुपए तक की मदद करेगा यह ग्रुप, इस वेबसाइट के माध्यम से जानकारी ले सकते है

वेबसाइट पोर्टल के माध्यम से देश के सभी ऐसे युवाओं से आवेदन पत्र आमंत्रित किए जाएंगे

1 of

नई दिल्ली। देेशभर के इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट समेत अन्य संस्थानाें में पढ़ाई कर रहे युवाओं काे अब स्टार्टअप शुरू करने में पैसों की दिक्कत नहीं आएगी। युवाओं की दिक्कत को दूर करने के लिए 35 युवा उद्यमियों के ग्रुप राइजर एक्सेलेरेटर ने स्टार्टअप में पैसे मुहैया करवानेे की घोषणा की है। इसके तहत स्टार्टअप के लिए 10 से 50 लाख रुपए तक की सहायता की जाएगी। सबसे बड़ी बात यह है कि राजइर एक्सेलेरेटर और आईआईटी दिल्ली में समझौता हो गया है।

राइजर एक्सेलेरेटर के मुताबिक, किसी भी स्टार्टअप के लिए समर्थन की जरूरत होती है, देखा जाता है पैसों की दिक्कत के चलते टैलेंटेड युवा पीछे ही रह जाते हैं। अब यह ग्रुप ऐसे युवाओं को स्टार्टअप के माध्यम से अपनी कंपनी खोलने में मदद करेगा।

 

वेबसाइट पोर्टल के माध्यम से देश के सभी ऐसे युवाओं से आवेदन पत्र आमंत्रित किए जाएंगे

 

ग्रुप के फाइनेंस व टेक्नोलॉजी के डायरेक्टर रचित चावला व लीडरशिप व मोटिवेशन के डायरेक्टर प्रवीण खंडेलवाल का मानना है कि वेबसाइट पोर्टल के माध्यम से देश के सभी ऐसे युवाओं से आवेदन पत्र आमंत्रित किए जाएंगे, जोकि स्टार्टअप खोलने में इच्छुक होंगे। इसके लिए बाकायदा दिशा-निर्देश बनाए जाएंगे, ताकि सही स्टार्टअप का चयन किया जा सके। चयन के आधार पर आगे ऐसे युवाओं को पैसों की मदद की जाएगी। ग्रुप ने स्टार्टअप शुरू करने के लिए www.risersaccelerrator.com वेबसाइट भी लांच की है। छात्र इस वेबसाइट के माध्यम से जानकारी ले सकते हैं।
आईआईआईटी दिल्ली के इनोवेशन व इंक्यूबेशन सेंटर के मुख्य ऑपरेटिंग अधिकारी निखिखास बात यह है कि राइजर एक्सेलेरेटर और आईआईआईटी दिल्ली में समझौता भी हो गया है।

 

आईआईआईटी दिल्ली के इनोवेशन व इंक्यूबेशन सेंटर के मुख्य ऑपरेटिंग अधिकारी निखिल झा के मुताबिक, कई बार बेहतर व प्रतिभावान छात्र पैसों की दिक्कत के चलते अपना स्टार्टअप शुरू नहीं कर पाते थे। हालांकि अब छात्रों की प्रतिभा व हुनर को पैसों से अच्छे विकल्प मुहैया होंगे।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन