विज्ञापन
Home » Economy » PolicyBSP earning  Rs 32 crore from the interest, know how much the BJP and the Congress have earned

एक भी सीट न जीतने वाली पार्टी ने BJP Congress को पछाड़ा, सिर्फ ब्याज से ही कमा लिए 32 करोड़ रुपए, जानिए भाजपा व कांग्रेस ने कितनी की कमाई

Loksabha Election : चंदे की रकम से 11 पार्टियों ने एक साल में 115 करोड़ रुपए ब्याज से कमाए

1 of

नई दिल्ली. आपको जानकार हैरानी होगी कि राजनीतिक पार्टियां सिर्फ चंदे ही नहीं बल्कि उस पर ब्याज से भारी कमाई करती हैं। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में एक भी सीट न जीतने वाली बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने सिर्फ एक साल में ही ब्याज से 32 करोड़ रुपए कमा लिए। उसकी यह कमाई भाजपा व कांग्रेस जैसे देश के सबसे बड़े दलों से ज्यादा थी। यह खुलासा 11 दलों के खातों की ऑडिट रिपोर्ट का विश्लेषण करने से हुआ है।    

 

दूसरे पायदान पर है BJP 


ब्याज से 31 करोड़ रुपये की कमाई के साथ सत्तारूढ़ भाजपा दूसरे स्थान पर रही है। यह राशि पिछले वित्तवर्ष के मुकाबले 2.31 लाख रुपये अधिक है। मुख्य विपक्षी कांग्रेस ने भी ब्याज से करीब 27 करोड़ रुपये की कमाई की है। साल 2017-18 की ऑडिट रिपोर्ट के मुताबिक बसपा ने ब्याज से सबसे अधिक 32 करोड़ रुपये की कमाई की है। हालांकि पिछले वित्तवर्ष के मुकाबले पार्टी की ब्याज से हुई कमाई में करीब 1.63 करोड़ रुपये की कमी आई है। बसपा को 2016-17 में ब्याज से 33.69 करोड़ रुपये मिले थे। 

 

सबसे कम कमाए लालू ने 

 

रिपोर्ट के मुताबिक शीर्ष 11 दलों में ब्याज से सबसे कम कमाई लालू प्रसाद यादव की पार्टी राजद की हुई है। पार्टी के नाम बैंकों में जमा राशि से मात्र 4.70 लाख रुपये की आय हुई है। 
विश्लेषकों ने दलों की ओर से चुनाव आयोग में जमा ऑडिट रिपोर्ट का अध्ययन किया। रिपोर्ट में कुछ पार्टियों ने फिक्स डिपॉजिट से आने वाले ब्याज और बचत खाते से आने वाले ब्याज की जानकारी अलग-अलग दी है जबकि कुछ ने केवल ब्याज के बारे में जानकारी दी है। 

 

यह भी पढ़ें...

1 April से यात्राओं, पार्टियों और शादी के फोटो सोशल मीडिया पर शेयर किए तो Income Tax की टीम पहुंचेगी आपके घर


 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

टेबिल में जानिए किसने कितनी कमाई की 

पार्टी ब्याज रुपए में
बसपा 32.06 करोड़ 
भाजपा 31.20 करोड़ 
कांग्रेस 27.15 करोड़
सपा 18.59 करोड़ 
शिवसेना 3.67 करोड़
तृणमूल कांग्रेस

90.01 लाख 

भाकपा 56.38 लाख 
जदयू 47.35 लाख 
एनसीपी 17.92 लाख
आप 8.30 लाख 
राजद 4.70 लाख 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन