Home » Economy » PolicyThe Asia Pacific Wealth Report 2018 from Capgemini

करोड़पति पैदा करने में भारत चीन से आगे, कई अन्य देशों को भी पीछे छोड़ा

सात साल में भारतीय करोड़पतियों की संपत्ति 83 फीसदी बढ़ी

1 of

 

नई दिल्ली। 

 

करोड़पतियों की संख्या और उनकी संपत्ति के मामले में भारत चीन से आगे निकल गया है। सिर्फ चीन से ही नहीं भारत दक्षिण कोरिया, हांगकांग और थाईलैंड से भी आगे है। 2016 से 2017 के दौरान यहां करोड़पतियों की संख्या में 20 फीसदी और संपत्ति में 22 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। सात साल में भारतीय करोड़पतियों की संपत्ति 83 फीसदी बढ़ी है। इस बात की जानकारी, कंसल्टेंसी फर्म केपजैमिनी द्वारा जारी एशिया पैसिफिक वेल्थ रिपोर्ट में दी गई है। यह रिपोर्ट बुधवार को जारी की गई थी।  हम बता दें कि यहां करोड़पतियों से मतलब उन लोगों से हैं जिनके पास कम से कम एक मिलियन डॅालर यानी 7 करोड़ रुपए की संपत्ति है।  एशिया प्रशांत क्षेत्र में जापान के अमीरों के पास सबसे अधिक 541 लाख करोड़ की संपत्ति है।

 

 

7 साल में भारतीय करोड़पतियों की संपत्ति 83% बढ़ी

 

साल करोड़पतियों की संपत्ति (रुपए)
2010  41 लाख करोड़ 
2011 33 लाख करोड़ 
2013 43 लाख करोड़
2014  55 लाख करोड़ 
2016  61 लाख करोड़
2017  75 लाख करोड़

 

आगे पढ़ें : एशिया प्रशांत में 12.1 फीसदी बढ़ गए करोड़पति

 

एशिया प्रशांत में 12.1 फीसदी बढ़ गए करोड़पति

 

एशिया पैसिफिक वेल्थ रिपोर्ट के अनुसार, एशिया प्रशांत में 12.1 फीसदी करोड़पतियों की संख्या बढ़ी है। इनमें सबसे पहला नाम भारत का है। इसके बाद दक्षिण कोरिया का नाम है। बाद में हांगकांग, थाईलैंड और सबसे अंत में चीन का नाम है।

 

पूरे एशिया-प्रशांत क्षेत्र में 12.1% बढ़ गए करोड़पति

देश करोड़पतियों की संख्या में इजाफा
भारत  20 फीसदी
दक्षिण कोरिया  17.3
हांगकांग  15
थाईलैंड  13.6
चीन  11.2

 

आगे पढ़ें 

 

2025 तक यह संख्या दोगुनी हो जाएगी

 

 

2017 में एशिया के सभी अमीरों की संपत्ति1,510 लाख करोड़ रुपए थी। यह 2010 की तुलना में दोगुनी है। 2025 तक यह फिर दोगुनी होकर 3,000 लाख करोड़ रुपए हो जाएगी।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट