विज्ञापन
Home » Economy » PolicySrinagar Hotel Invites Stranded Tourists For Free Lodging

सीमा पर तनाव के चलते श्रीनगर में फंसे पर्यटकों को मुफ्त में रहना और खाना दे रहा है यह लग्जरी होटल

यात्रियों की मदद के लिए सोशल मीडिया पर जारी किया फोन नंबर और पता

1 of

 नई दिल्ली। पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर हमले का बदला लिया और जैश-ए- मोहम्मद के आतंकी संगठन को खत्म कर दिया। इसके बाद से ही देश में सुरक्षा एजेंसियां हाई अलर्ट पर हैं। सीमा पर तनाव की वजह से कई यात्री घाटी में फंसे हुए हैं। ऐसे में श्रीनगर के लग्जरी होटल मालिकों ने मेहमाननवाजी का नया फाॅर्मूला निकाला है।

 

एयरपोर्ट्स और हाई-वे बंद होने के चलते श्रीनगर में फंसे हुए हैं यात्री

 कश्मीर होटेल ऐंड रेस्ट्रॉन्ट असोसिएशन (KHARA) ने एयरपोर्ट्स और हाई-वे बंद होने के चलते, हालात सामान्य होने तक श्रीनगर में फंसे हुए यात्रियों से अपील की है कि यदि उन्हें ठहरने या खाने-पीने की कोई भी दिक्कत होती है तो वह उनसे संपर्क करें। इतना ही नहीं, उन्होंने यात्रियों की मदद के लिए अपने फोन नंबर्स भी जारी किए हैं। 

 

 

 

श्रीनगर का यह हाेटल दे रहा है मौका

 

श्रीनगर के होटल कैसल ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है। उन्होंने मौजूदा परिस्थिति में श्रीनगर में फंसे तमाम पर्यटकों को मुफ्त में रहने और खाने की सुविधा देने की घोषणा की है। होटल ने अपने पोस्ट में लिखा है कि पर्यटक चाहे किसी भी राज्य से ताल्लुक रखते हो, वो हाेटल आकर तब तक रह सकते हैं और खा सकते हैं जब तक कि स्थिति सामान्य ना हो जाए। इसके साथ ही उन्होंने अपना नंबर और पता भी शेयर किया है।

 

 

'होटेल मालिकों को बाहरी लोगों का खास ख्याल रखने को कहा गया है'

 

जम्मू-कश्मीर के क्लब ने भी इस प्रस्ताव को यह कहते हुए आगे रखा है कि यात्रियों को मौजूदा तनाव की वजह से किसी प्रकार का कोई डर महसूस नहीं होना चाहिए। क्लब के चेयरमैन और कई होटेल्स के मालिक कहते हैं कि घाटी में बने होटलों में पर्यटक मुफ्त में रहें, हम उनका स्वागत करते हैं। चाया ने कहा, 'हमारे साथ मेहमानों के स्वागत का लंबा इतिहास जुड़ा रहा है। इस स्थिति में अगर यात्रियों को किसी भी प्रकार की आर्थिक दिक्कत होती है तो वे हमारे होटेल्स में रुक सकते हैं। सभी होटेल मालिकों को बाहरी लोगों का खास ख्याल रखने को कहा गया है।' 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन