Home » Economy » PolicyRetail inflation moves up to 5 per cent in June from 4.87 per cent in May

जून में खुदरा महंगाई बढ़कर 5% पर, पांच महीने में सबसे ज्‍यादा

हालांकि खाने-पीने के चीजों की खुदरा महंगाई में पिछले महीने घटकर 2.91 फीसदी पर आ गई, जोकि मई में 3.10 फीसदी पर थी।

Retail inflation moves up to 5 per cent in June from 4.87 per cent in May

नई दिल्‍ली. खुदरा महंगाई जून में बढ़कर 5 फीसदी पर पहुंच गई, जोकि पांच महीने में सबसे ज्‍यादा है। उपभोक्‍ता मूल्‍य सूचकांक (CPI) आधारित खुदरा महंगाई मई में 4.87 फीसदी थी। वहीं, जून 2017 में खुदरा महंगाई 1.46 के स्‍तर पर दर्ज की गई थी। इस साल इससे पहले खुदरा महंगाई का टॉप लेवल जनवरी में था, जब यह 5.07 फीसदी पर दर्ज की गई थी। 

 

 

खाने-पीने के चीजों की महंगाई घटी 
सेंट्रल स्टैटिस्टिक्स ऑफिस (सीएसओ) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, इस साल जून में खाने-पीने के चीजों की खुदरा महंगाई में घटकर 2.91 फीसदी पर आ गई, जो मई में 3.10 फीसदी पर थी। फ्यूल और बिजली की महंगाई में इजाफा हुआ है। जून में फ्यूल और बिजली की खुदरा महंगाई बढ़कर 7.14 फीसदी पर पहुंच गई, जो मई में 5.8 फीसदी थी। कीमतों से जुड़ा डाटा एनएसएसओ की फील्ड ऑपरेशंस डिवीजन द्वारा चुनिंदा शहरों और डिपार्टमेंट ऑफ पोस्ट्स द्वारा कुछ गांवों से कलेक्ट किया गया था। 

 

रूरल और अर्बन दोनों महंगाई बढ़ी 
सीएसओ के आंकड़ों के अनुसार, जून में रूरल महंगाई 5 फीसदी रही, जो मई में 4.88 फीसदी थी। वहीं, अर्बन महंगाई पिछले महीने बढ़कर 4.85 फीसदी पर पहुंच गई। मई माह में यह 4.72 फीसदी पर थी। कपड़े, फूटवियर की महंगाई 0.4 फीसदी बढ़ी जबकि पान, तंबाकू, बेवरेजेज इंडेक्‍स में पिछले महीने 1.0 फीसदी का उछाल आया। 

 

RBI के सामने महंगाई 4% रखने का लक्ष्‍य
महंगाई में बढ़ोत्‍तरी को देखते हुए रिजर्व बैंक अगली मौद्रिक नीति समीक्षा में ब्‍याज दरों पर अहम फैसला ले सकता है।रिजर्व बैंक ने ब्‍याज दरों पर फैसला करने के लिए महंगाई का लक्ष्‍य 4 फीसदी पर तय किया है। इसमें 2 फीसदी कम या ज्‍यादा की गुंजाइश है। रिजर्व बैंक के गवर्नर की अध्‍यक्षता में मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (एमपीसी) की बैठक इस महीने के आखिर में 30 जुलाई को शुरू होगी। यह बैठक तीन तक चलेगी। 1 अगस्‍त को तीसरी बाय मंथली मौद्रिक नीति का एलान होगा। पहले एमपीसी की बैठक दो दिन तक चलती थी लेकिन इस साल जून में हुई दूसरी बाय मंथली समीक्षा की बैठक तीन दिन की हो रही है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट