विज्ञापन
Home » Economy » PolicyReserve bank of india extends KYC compliance norms by six months

ई-वॉलेट कंपनियों को RBI ने दी यह छूट, PayTM-Amazon को सबसे ज्यादा फायदा

कंपनियों की शिकायत के बाद दिया बड़ा तोहफा

Reserve bank of india extends KYC compliance norms by six months

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने देश में कारोबार कर रहीं ई-वॉलेट कंपनियों को बड़ी राहत दी है। RBI ने इन ई-वॉलेट कंपनियों को अपने ग्राहकों को केवाईसी (Know Your Customer) कराने के लिए छह महीने का समय और दिया है। RBI के इस फैसले से सबसे ज्यादा फायदा PayTm और Amazon जैसी बड़ी कंपनियों को होगा। 

 

इसलिए लिया फैसला
RBI ने प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट (PPI) का कार्य करने वाली कंपनियों को अपने ग्राहकों को केवाईसी कराने के निर्देश दिए थे। इसके लिए RBI ने 28 फरवरी तक की समय सीमा तय की थी। लेकिन इस समयसीमा तक कंपनियां बड़ी संख्या में अपने ग्राहकों को केवाईसी नहीं करा पाई थीं। इसके बाद कंपनियों ने RBI से केवाईसी कराने के लिए और समय देने की मांग की थी। कंपनियों की इस मांग के बाद RBI ने इनको छह महीने का और समय दे दिया है। साथ ही RBI ने इन कंपनियों को केवाईसी पूरा कराने के लिए वैकल्पिक साधनों का इस्तेमाल करने को भी कहा है। 

 

इन कंपनियों को होगा सबसे ज्यादा फायदा
RBI की ओर से केवाईसी पूरा कराने के लिए छह माह का और समय दिए जाने के बाद सबसे ज्यादा फायदा  Paytm, MobiKwik, Flipkart, PhonePe और Amazon जैसी कंपनियों को होगा। यह कंपनियां वित्तीय लेन-देन के अलावा गुड्स पर्चेज का कार्य भी करती हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss