बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyडाटा लीक मामले में फेसबुक को सरकार ने चेताया, कांग्रेस पर लगाए गंभीर आरोप

डाटा लीक मामले में फेसबुक को सरकार ने चेताया, कांग्रेस पर लगाए गंभीर आरोप

डाटा चोरी के मामले में दुनियाभर के निशाने पर आई सोशल मीडिया साइट फेसबुक पर अब भारत सरकार ने भी सख्‍ती दिखाई है।

1 of

नई दिल्‍ली... फेसबुक पर करीब 5 करोड़ यूजर्स की जानकारियां लीक होने से जिस डाटा फर्म को फायदा पहुंचने के आरोप लग रहे हैं, बीजेपी ने उसी एजेंसी से कांग्रेस के कनेक्शन का दावा किया है। वहीं कांग्रेस ने इन आरोपों को खारिज करते हुए फेक न्‍यूज बताया है।  कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एजेंसी की वेबसाइट से मिली जानकारियों के आधार पर दावा किया कि 2010 के बिहार चुनाव में बीजेपी ने इस एजेंसी की सेवाएं ली थीं। उस समय बीजेपी का जेडीयू के साथ गठबंधन था।

 

 

डेटा लीक स्कैंडल: जुकरबर्ग ने मानी गलती, कहा डाटा सुरक्षा हमारी जि‍म्‍मेदारी

क्‍या है मामला 
दरअसल, बुधवार को आईटी मिनिस्‍टर रविशंकर प्रसाद ने मीडिया से बातचीत के दौरान कांग्रेस पर सोशल मीडिया के जरिए चुनावों को प्रभावित करने की कोशिश के गंभीर आरोप लगाए हैं। प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने 2019 के चुनाव प्रचार के लिए ब्रिटिश एजेंसी कैम्ब्रिज एनालिटिका को जिम्मेदारी सौंपी है, जिस पर कई गंभीर आरोप लगे हैं। 

 

क्‍या कहा मंत्री ने 

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सरकार सोशल मीडिया पर फ्रीडम ऑफ प्रेस, स्‍पीच और एक्‍सप्रेशन का हमेशा से समर्थन करती रही है लेकिन इसी बहाने चुनावी प्रक्रियाओं को प्रभावित करने की मंशा स्‍वीकार्य नहीं है। उन्‍होंने कहा कि इस बात को फेसबुक को समझ लेना होगा कि अगर जरूरत पड़ी तो भारत सरकार उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी करेगी। 

 

कांग्रेस पर साधा निशाना 

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने 2019 के चुनाव प्रचार के लिए ब्रिटिश एजेंसी कैम्ब्रिज एनालिटिका को जिम्मेदारी सौंपी है, जिस पर कई गंभीर आरोप लगे हैं। केंद्रीय मंत्री ने दावा किया कि जिस एजेंसी को कांग्रेस पार्टी ने हायर किया है उस पर घूस लेने, सेक्स वर्कर्स के जरिए राजनेताओं को फंसाने और फेसबुक से डाटा चुराने जैसे गंभीर आरोप लगे हैं। उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपनी सोशल मीडिया प्रोफाइल में कैम्ब्रिज एनालिटिका की भूमिका स्पष्ट करनी चाहिए। 

 

जुकरबर्ग को समन भेज सकती है सरकार 

 

वहीं सरकार की ओर से कहा गया है कि जरुरत पड़ी तो फेसबुक के फाउंडर मार्क जुकरबर्ग को समन भी भेजा जाएगा। आईटी मिनिस्‍टर रविशंकर प्रसाद ने कहा कि अगर किसी भी भारतीय के डाटा लीक मामले में फेसबुक की संलिप्‍तता नजर आती है तो उसे समन भेजा जाएगा। उन्‍होंने कहा कि आज 20 करोड़ भारतीय फेसबुक पर हैं। अगर फेसबुक के जरिए भारतीयों के डाटा शेयर की जानकारी मिलेगी तो आईटी एक्‍ट के तहत सख्‍त कार्रवाई की जाएगी। 

 

झूठ की फैक्‍ट्री चला रही बीजेपी


वहीं इन आरोपों को खारिज करते हुए कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी झूठ की फैक्‍ट्री चलाती है। उन्‍होंने कहा कि हर दिन फेक कॉन्‍फ्रेंस, फेक एजेंडा और फेक स्‍टेटमेंट दिया जा रहा है। उन्‍होंने आगे कहा कि कांग्रेस ने कभी भी ऐसी किसी कंपनी से मदद नहीं ली है। 

 

 

 

 

कैम्ब्रिज एनालिटिका पर चुनावों को प्रभावित करने का आरोप

- न्यूयॉर्क टाइम्स और लंदन ऑब्जर्वर ने पिछले हफ्ते अपनी इंवेस्टिगेटिव रिपोर्ट में कैम्ब्रिज एनालिटिका के बारे में खुलासे किए।

- एक टीवी चैनल ने कैम्ब्रिज एनालिटिका के सीईओ से जुड़ी एक रिपोर्ट दिखाई। इसमें निक्स कैमरे के सामने यह कह रहे हैं कि उन्होंने नेताओं को जाल में फंसाने और चुनावों पर असर डालने के लिए खूबसूरत महिलाओं का इस्तेमाल किया और रिश्वत भी दी। फेसबुक से जुड़े डाटा चोरी के इस मामले की खबर के बाद महज 48 घंटे में मार्क जुकरबर्ग को करीब 58,500 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

- रिपोर्ट्स के मुताबिक, फेसबुक ने यह डाटा कैम्ब्रिज एनालिटिका नाम की कंपनी को दिया था। एनालिटिका ने ही ट्रम्प के चुनाव प्रचार में मदद की थी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट