विज्ञापन
Home » Economy » PolicyPram is available for kids on vaishno devi temple route

वैष्णो देवी जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए खुशखबरी, बच्चों के लिए शुरू हुई प्रैम सेवा, मात्र इतना है किराया

इस सुविधा का लाभ उनको अधिक मिलेगा जो यात्रा के दौरान छोटे बच्चों को होनेवाली असुविधा के कारण परेशान होते हैं

1 of

नई दिल्ली। वैष्णो देवी जाने वाले भक्तों के लिए खुशखबरी है। अब आप अपने छोेटे बच्चों के साथ बड़े आराम से माता वैष्णो देवी के दर्शन कर सकते हैं। पहले बच्चों के लिए पिठ्ठू एकमात्र साधन हुआ करती थी जो कि बच्चों को अपने पीठ पर बैठाकर ले जाते थे। कई बार छोटे बच्चे उनकी गोदी में (पिठ्ठ्रु) पर जाने से रोते हैं। मां-बाप अपनी बेटियों को उन्हें सौंपने में भी हिचकते हैं। वहीं अब बच्चों के लिए प्रैम यानी गाड़ी की सुविधा शुरू की गई है। जिसमें एक साथ दो बच्चों को आसानी से बैठाकर माता वैष्णो के दरबार तक जा सकते हैं। इस सुविधा का लाभ उनलोगों को सबसे अधिक मिलेगा जिन्हें अपने छोेटे बच्चों की वजह से वैष्णो देवी की यात्रा पर परेशानी का सामना करना पड़ता था।

इतना होगा किराया

अगर आप अपने बच्चों के लिए इस गाड़ी (प्रैम) की सर्विस लेना चाहते हैं तो आपको कटरा से अर्द्धकुंवारी तक 350 रुपए देने होंगे वहीं कटरा से भवन तक जाने के लिए 700-800 रुपए चुकाने होंगे।

भवन से भैरोबाबा तक पहुंचने के लिए रोप-वे

 

बता दें कि कुछ ही महीने पहले यहां राेप-वे जैसी सुविधाजनक सर्विस की शुरूआत की गई थी जिससे माता वैष्णो देवी के दर्शन के बाद भैरो जी के दर्शन करना पहले से आसान हो गया है। इस रोप-वे के जरिए श्रद्धालुओं को 3 मिनट में माता के भवन से भैरो मंदिर तक पहुंचाया जाता है। इसके किराए की बात करें तो इसका किराया न्यूनतम ही रखा गया है। वैष्णो देवी दरबार से भैराेनाथ की यात्रा रोपवे का किराया मात्र 100 रुपए है ।एक बार में 42 यात्री जा सकते हैं। जहां पहले पैदल जाने पर तीन घंटे का समय लगता था और घोड़े पर जाने से प्रति व्यक्ति 300-500 रुपए चुकाने पड़ते थे।

 


 

बुजुर्गों के लिए बैटरी कार सेवा भी

 

दिव्यांग, मरीज तथा बुजुर्ग श्रद्धालुओं के लिए श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने वर्ष 2010 में अर्धकुमारी से वैष्णो देवी मंदिर के बीच बैटरी कार सेवा शुरू की। इस मार्ग पर करीब 25 बैटरी कारें श्रद्धालुओं को सुबह 7:00 बजे से लेकर रात 10:00 बजे तक अपनी सेवाएं दे रही हैं। जिससे श्रद्धालुओं की विशेष कर दिव्यांग मरीज़ तथा बुजुर्ग श्रद्धालुओं की परेशानियां दूर हो गई हैं।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन