विज्ञापन
Home » Economy » PolicyPM Modi to worship at Padmanabh Swamy Temple in Thiruvananthapuram

दुनिया के सबसे अमीर मंदिर में पीएम मोदी ने की पूजा, इस मंदिर की संपत्ति करोड़ों की है

इस मंदिर का है रहस्यमय इतिहास

1 of

नई दिल्ली। आज मकर संक्रांति के मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दुनिया के सबसे अमीर मंदिर में पूजा-अर्चना की। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस मंदिर के तहखाने में लगभग दो लाख करोड़ की संपत्ति है। ऐसी मान्यता है कि यहां सबसे पहले भगवान विष्णु की प्रतिमा प्राप्त हुई थी, इसके बाद उसी स्थान पर मंदिर बनाया गया। आज भगवान विष्णु का यह मंदिर देश के प्रमुख वैष्णव मंदिरों में शामिल है। हम बात कर रहे हैं केरल के तिरुवनंतपुरम में स्थित पद्मनाभ स्वामी मंदिर की। इस भव्य मंदिर में पीएम मोदी पूजा करेंगे।

 

जानिए कितनी है मंदिर के पास संपत्ति

मंदिर और इसकी सम्पत्ति के स्वामी भगवान पद्मनाभस्वामी ही हैं। बहुत दिनों तक यह मंदिर तथा इसकी सम्पत्तियों की देखरेख और सुरक्षा एक न्यास (ट्रस्ट) द्वारा की जाती रही, जिसके अध्यक्ष त्रावणकोर के राजपरिवार का कोई सदस्य होता था, लेकिन आज के समय में सुप्रीम कोर्ट ने राजपरिवार को इस मंदिर के प्रबंधन की अध्यक्षता करने से रोक दिया है। मंदिर के तहखानों में रखी करीब दो लाख करोड़ की संपत्ति का पता चला है। सुप्रीम कोर्ट ने इस तहखाने को खोलने पर रोक लगा दी है। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश किया है कि ये संपत्ति मंदिर की है और मंदिर की पवित्रता और सुरक्षा सुनिश्चित की जानी चाहिए।

 

 

 

मंदिर का इतिहास

यह एक ऐतिहासिक मंदिर है।पद्मनाभ स्वामी मंदिर विष्णु-भक्तों की महत्वपूर्ण आराधना-स्थली है। मंदिर की संरचना में सुधार कार्य किए गए जाते रहे हैं। पद्मनाभ स्वामी मंदिर के साथ एक पौराणिक कथा जुड़ी हुई है। मान्यता है कि इस स्थान से विष्णु भगवान की प्रतिमा प्राप्त हुई थी जिसके बाद यहां इस मंदिर का निर्माण किया गया है।

 

 

कैसे पहुंचे पहुंचे पद्मनाभ मंदिर

 

केरल के तिरुअनंतपुरम पहुंचने के लिए दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता से फ्लाइट्स उपलब्ध हैं। अगर आप ट्रेन से यहां पहुंचना चाहते हैं तो सभी बड़े शहरों से ट्रेन की सुविधा मिल सकती है। सड़क मार्ग से भी तिरुवनंतपुरम सभी बड़े शहरों से जुड़ा है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन