बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyभारत के पास डेमोक्रेसी, डेमोग्रॉफी और डिमांड, दुनिया के साथ बिजनेस को तैयार: PM मोदी

भारत के पास डेमोक्रेसी, डेमोग्रॉफी और डिमांड, दुनिया के साथ बिजनेस को तैयार: PM मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि पर्चेजिंग पावर यानी खरीद क्षमता के अनुसार भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था है।

1 of

नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विदेशी निवेश की वकालत करते हुए कहा है कि दुनिया की सबसे मुक्‍त अर्थव्‍यवस्‍थाओं में एक भारत भी है और वह दुनिया के साथ बिजनेस करने के लिए तैयार है। इंडिया-कोरिया बिजनेस समिट में मंगलवार को पीएम मोदी ने कहा कि यदि ग्‍लोब के चारों ओर नजर डालें तो दुनिया में बहुत कम ऐसे देश हैं, जहां इकोनॉमी के तीन महत्‍वपूर्ण फैक्‍टर एक साथ मौजूद हैं। वे हैं डेमोक्रेसी, डेमोग्रॉफी और डिमांड, भारत में तीनों चीजें एक साथ हैं।

 


2017 में बायलेटरल ट्रेड 20 अरब डॉलर के पार

पीएम मोदी ने कहा, यह जानकर खुशी हो रही है कि दोनों देशों के बीच बायलेटरल ट्रेड बीते 6 साल में पहली बार 20 अरब डॉलर को पार कर गया है। मोदी ने यह भी कहा कि दक्षिण कोरियाई कंपनियों को उनके इनोवेशन के लिए और बेहतर प्रोडक्‍ट बनाने की सराहना की जाती है। आईटी से इलेक्ट्रॉनिक्स, ऑटोमोबाइल और स्‍टील तक में कोरिया ने अपने ग्‍लोबल ब्रांड बनाए हैं।  

 

स्‍टेबल बिजनेस इन्‍वॉयरमेंट बनाया 

 

बहुत जल्‍द होगी पांचवी सबसे बड़ी जीडीपी 

पीएम मोदी ने कहा कि पर्चेजिंग पावर यानी खरीद क्षमता के अनुसार भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था है। जल्‍द ही नॉमिनल जीडीपी के अनुसार हम दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था बन जाएंगे। आज भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्‍यस्‍स्‍थाअें में से एक है। साथ ही भारत एक ऐसा देश है, जहां एक सबसे बड़ा स्‍टार्टअप इकोसिस्‍टम मौजूद है। 

 

लाइसेंसराज खत्‍म करने की दिशा में भारत 

पीएम ने कहा कि सरकार डी-रेग्‍युलेशन और डी-लाइसेंसिंग की तरफ आगे बढ़ रही है। इंडस्ट्रियल लाइसेंस की समय सीमा को तीन साल से बढ़ाकर 15 साल और उससे ज्‍यादा कर दिया गया। कोरियन बिजनेस लीडर से पीएम मोदी ने कहा कि भारत अब बिजनेस के लिए तैयार है। साथ ही उन्‍होंने वादा किया कि उनके निवेश को प्रमोट और प्रोटेक्‍ट करने के लिए हर जरूरी कदम उठाएंगे। 

 

कोरिया ने बनाए ग्‍लोबल ब्रांड

मोदी ने कहा, मैं जब गुजरात का मुख्यमंत्री था, तब कोरिया गया था। मैं हैरान था कि कोई देश इतनी तरक्की कैसे कर सकता है। मैं सराहना करता हूं कि कोरिया ने ग्‍लोबल ब्रांड को बनाया है और विकसित किया है। कोरिया विश्व के सबसे अच्छे प्रोडक्‍ट की मैन्‍युफैक्‍चरिंग करता है।   

 

आगे पढ़ें... मोदी ने कहा- दोनों देश में बुद्ध परंपरा  

 

 

दोनों देश बुद्ध की परंपरा से जुड़े 

मोदी ने कहा कि भारत और कोरिया, दोनों देश बुद्ध परंपरा से जुड़े हुए है। नोबेल साहित्यकार रविंद्रनाथ टैगोर ने 1929 में 'लैंप ऑफ द ईस्ट' कविता में कोरिया के इतिहास और इसके भविष्य के बारे में लिखा था। राजकुमारी से लेकर कविता तक और बुद्धा से लेकर बॉलीवुड तक भारत और कोरिया के बीच कई समानता है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट