Home » Economy » PolicyPar panel to look into black money recovery and performance of public sector banks

ब्‍लैकमनी रिकवरी व बैंकों के परफॉर्मेंस की जांच करेगा पार्लियामेंट्री पैनल, जोशी करेंगे अगुवाई

बीजेपी के सीनियर लीडर मुरली मनोहर जोशी की अगुवाई में पार्लियामेंट्री पैनल ब्‍लैकमनी की रिकवरी और पब्‍लिक सेक्‍टर के बैंक

1 of
नई दिल्‍ली. BJP के सीनियर लीडर मुरली मनोहर जोशी की अगुवाई में पार्लियामेंट्री पैनल ब्‍लैकमनी की रिकवरी और पब्‍लिक सेक्‍टर के बैंकों के परफॉर्मेस समेत कई अन्‍य मुद्दों पर स्‍टडी करेगी। गुरुवार को लगभग 30 सदस्‍यों की कमिटी ने मीटिंग में यह फैसला लिया। कमिटी ने यह भी बताया कि पैनल साल 2018-19 में विभिन्न मंत्रालयों से संबंधित विषयों पर भी अपना रिपोर्ट तैयार करेगी।

 
 
इन मुद्दों की भी होगी जांच
कमिटी के ज्ञापन के अनुसार यह पैनल न्‍यूक्‍लियर प्‍लांट के लिए यूरेनियम इंपोर्ट के अलावा माइनिंग एक्‍टिविटी और पर्यावरण के मुद्दों पर स्‍टडी करेगी। वहीं भारत के डाकघरों के अपग्रेडिंग और देश में सूखे की स्थिति की भी समीक्षा की जाएगी। इस कमिटी ने बताया कि पैनल प्रवर्तन निदेशालय के फंक्‍शनिंग और कर्ज रिकवरी ट्रिब्यूनल, रूरल हाउसिंग फंड और इंपोर्ट के रिव्‍यू के अलावा पेमेंट्स के एक्‍सपोर्ट और बैलेंस की भी स्‍टडी  करेगी।
 
 
बीते 1 मई को पैनल का हुआ दोबारा गठन
बीते 1 मई को लोकसभा स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने दोबारा पैनल का गठन किया और बीजेपी के सीनियर लीडर मुरली मनोहर जोशी को पैनल का चेयरमैन बनाया। बता दें कि इस पैनल के अलावा पब्‍लिक अकाउंट्स कमिटी (PAC) भी नोटबंदी के बाद की ब्‍लकैमनी रिकवरी की जांच कर रही है।
 
 
RBI ने पीएसी को दिया था जवाब
बीते साल सेंट्रल बैंक RBI ने बताया था कि उसे इस बात की जानकारी नहीं है कि नोटबंदी के बाद कितनी ब्‍लैकमनी की रिकवरी हुई है। RBI गवर्नर ने यह बात PAC के सामने कही थी। बता दें कि 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का एलान किया था। इस के बाद 500 और 1000 रुपए के नोट बंद कर दिए गए थे।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट