विज्ञापन
Home » Economy » PolicyLondon Court Hear Nirav Modi's Bail Plea

नीरव मोदी की लंदन कोर्ट में सुनवाई आज, इन शर्तों पर मिल सकती है जमानत

भारत से सीबीआई की एक टीम मोदी की गिरफ्तारी के लिए लंदन रवाना

London Court Hear Nirav Modi's Bail Plea

Nirav Modi may be granted bail on these conditions: देश से 13 हजार करोड़ रुपए चुराकर लंदन फरार हुए भगाेड़े नीरव मोदी की आज वहां के कोर्ट में सुनवाई होने जा रही है। लंदन के कानून के मुताबिक नीरव मोदी को कुछ शर्तों पर जमानत भी मिल सकती है। इससे पहले, लंदन पुलिस की गिरफ्तारी के बाद 48 वर्षीय नीरव मोदी की जमानत याचिका को जिला न्यायाधीश मैरी मैलोन ने पहली सुनवाई में खारिज कर दिया था। उसे लेने के लिए भारत से CBI की एक टीम बुधवार को लंदन रवाना हुई है।

नई दिल्ली.

देश से 13 हजार करोड़ रुपए चुराकर लंदन फरार हुए भगाेड़े नीरव मोदी की आज वहां के कोर्ट में सुनवाई होने जा रही है। वह पिछले 10 दिनों से लंदन की जेल में बंद है। इस सुनवाई को जहां इस उम्मीद से देखा जा रहा है कि नीरव माेदी को भारत वापस लाया जा सकेगा, वहीं यह सवाल भी उठ रहा है कि उसे जमानत भी मिल सकती है। नीरव मोदी के वकील उसे जमानत दिलवाने के लिए कोर्ट के सामने अर्जी रखेंगे। लंदन के कानून के मुताबिक नीरव मोदी को कुछ शर्तों पर जमानत भी मिल सकती है। इससे पहले, लंदन पुलिस की गिरफ्तारी के बाद 48 वर्षीय नीरव मोदी की जमानत याचिका को जिला न्यायाधीश मैरी मैलोन ने पहली सुनवाई में खारिज कर दिया था। उसे लेने के लिए भारत से CBI की एक टीम बुधवार को लंदन रवाना हुई है।

 

ये होंगी शर्तें

अगर नीरव मोदी को जमानत पर छोड़ा जाता है तो उसके लिए कोर्ट कड़ी शर्तें रख सकता है। सबसे पहले नीरव मोदी के वकीलों की ओर से दिया गया 5 करोड़ रुपए की जमानत राशि के ऑफर को बढ़ाया जा सकता है। साथ ही पुलिस स्टेशन में लगातार हाजिरी देने रहने का आदेश दिया जा सकता है। इसके बाद यह देखा जाएगा कि प्रत्यर्पण की सुनवाई को आगे कैसे बढ़ाया जाए।

 

ऐसे आया था मोदी पुलिस के शिकंजे में

नीरव मोदी को कुछ दिन पहले लंदन की सड़कों पर घूमते हुए The Telegraph के एक रिपोर्टर ने देखा गया था और कुछ सवाल पूछे थे। इस वीडियो के वायरल होते ही लंदन पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। उसे दस दिन तक हिरासत में रखा गया। हालांकि ऐसे केस में आरोपी को हिरासत में नहीं रखा जाता है, लेकिन पुलिस को डर था कि कहीं मोदी फिर भाग न जाए, इसलिए उसे जेल में डाला गया।

 

लंदन की बैंक शाखा से हुआ गिरफ्तार

नीरव मोदी को मध्य लंदन की बैंक शाख से गिरफ्तार किया गया था। उस समय वह नया खाता खोलने की कोशिश कर रहा था। वह फिलहाल बुधवार से दक्षिण पश्चिम लंदन में एचएमपी वैंड्सवर्थ जेल में बंद है। अदालत के एक अधिकारी ने मंगलवार को कहा कि उसे दूसरी जमानत अर्जी के लिये अदालत में पेश किये जाने की संभावना है। इस पर 29 मार्च को सुनवाई होगी।

 

अधिवक्ता जोनाथन स्वैन ने किया था जमानत अर्जी का विरोध

भारतीय जांच एजेंसियों की तरफ से मामले में पैरवी कर रहे क्राउन प्रोसक्यूशन सर्विस (सीपीएस) के अधिवक्ता जोनाथन स्वैन ने पिछली सुनवाई में नीरव मोदी की जमानत अर्जी का विरोध करते हुए कहा था कि वह करीब 2 अरब डालर की धोखाधड़ी तथा मनी लांड्रिंग मामले में भारत में वांछित है। न्यायाधीश मैलोन ने भारतीय एजेंसियों के पक्ष में फैसला सुनाया और कहा कि वह इस बात से सहमत हैं कि नीरव मोदी के पास साधन है और अगर उसे जमानत दी जाती है तो वह आत्मसमर्पण नहीं करेगा।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss