Home » Economy » PolicyNepal Prime Minister KP Oli and Modi issue joint statement

काठमांडू तक चलेंगी ट्रेन, नई रेल लाइन पर काम करने के लिए राजी हुए भारत-नेपाल

भारत और नेपाल दोनों देशों के बीच नई रेल लाइन पर काम करने के लिए राजी हो गए हैं।

1 of

नई दिल्ली. भारत और नेपाल दोनों देशों के बीच नई रेल लाइन पर काम करने के लिए राजी हो गए हैं। इसके माध्यम से भारत से काठमांडू को सीधे कनेक्ट किए जाने की योजना है। भारत दौरे पर आए नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली के साथ ज्वाइंट प्रेस कान्फ्रेंस को संबोधन के दौरान पीएन नरेंद्र मोदी ने यह बात कही। इससे पहले पीएम मोदी और ओली ने भारत-नेपाल पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स पाइपलाइन का भी शुभारंभ किया गया।


संबंधों की संपन्‍न वि‍रासत 
इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा कि भारत-नेपाल संबंधों की संपन्न विरासत रही है। उन्होंने कहा कि दोनों देश पुराने ऐतिहासिक संबंधों का लुत्फ उठा रहे हैं और दोनों के पास एक-दूसरे को देने के लिए काफी कुछ हैं।


पीएम मोदी ने कहा कि सिक्युरिटी के लिहाज से दोनों देशों के मजबूत संबंध हैं और अपनी सीमाओं के दुरुपयोग को रोकने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि उनका उद्देश्य नेपाल के साथ वाटरवेज और रेल संपर्क सुधारना है। उन्होंने कहा, ‘आज हमने ऐसे कई कनेक्टिविटी प्रोजेक्ट्स की प्रगति की समीक्षा की।’ नेपाल के विकास में भारत के योगदान का पुराना इतिहास रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि वह पीएम ओली को इसे भविष्य में जारी रखने का भरोसा दिलाते हैं।  

 

नेपाल की जनता को दि‍ल से बधाई 
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और नेपाल के प्रधानमंत्री खडग प्रसाद शर्मा 'ओली' ने मोतिहारी (बिहार) से अमलेखगंज (नेपाल) के बीच गैस पाइपलाइन परियोजना का शिलान्यास किया और बीरगंज में एकीकृत जांच चौकी का उद्घाटन किया।  मोदी ने कहा कि ओली की यात्रा नेपाल में ऐतिहासिक लोकतांत्रिक प्रक्रिया के पूरी होने की पृष्ठभूमि में हो रही है जो नेपाल की बहुत बड़ी उपलब्धि है। वर्ष 2006 में शुरू संक्रमण काल का यह उत्कर्ष है जिसके लिए वह नेपाल की जनता एवं सरकार को हृदय से बधाई देते हैं। 


उन्होंने कहा कि नेपाल के स्वर्णिम अध्याय का शुभारंभ हो रहा है और नेपाल के तीव्र आर्थिक विकास एवं नेपालियों की खुशहाली के लिए भारत प्रतिबद्ध है। उनका सबका साथ सबका विकास का नारा और ओली का 'समृद्ध नेपाल, सुखी नेपाली' का सपना एक दूसरे का पूरक है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट