बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyभारत को लोअर कार्बन रिन्‍युएबल एनर्जी भविष्‍य देने के लिए कमिटेड हैं मोदी: वर्ल्‍ड बैंक

भारत को लोअर कार्बन रिन्‍युएबल एनर्जी भविष्‍य देने के लिए कमिटेड हैं मोदी: वर्ल्‍ड बैंक

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने भारत की कार्बन इंटेंसिटी घटाने का लक्ष्‍य निर्धारित किया था

1 of

वाशिंगटन. प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने भारत की कार्बन इंटेंसिटी घटाने का लक्ष्‍य निर्धारित किया था और वह देश को कम कार्बन वाली रिन्‍युएबल एनर्जी के भविष्‍य की ओर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। यह बात वर्ल्‍ड बैंक के प्रेसिडेंट जिम योंग किम ने सोमवार को फ्रांस में होने वाले वन प्‍लैनेट समिट से पहले एक कॉन्‍फ्रेंस कॉल के दौरान कही। वह जलवायु परिवर्तन में कमी लाने में वर्ल्‍ड बैंक की ओर से लगातार किए जा रहे कार्यों और पेरिस समझौते को लागू करने में विकासशील देशों की मदद के प्रयासों पर बात कर रहे थे। 

 

भारत में जो कुछ हो रहा है, उसे लेकर हूं आशावादी 

किम ने कहा कि भारत में रिन्‍युएबल एनर्जी को लेकर जो कुछ हो रहा है, उसे लेकर मैं बहुत आशावादी हूं। दूसरी चीज जो महत्‍वपूर्ण है वह यह कि प्रधानमंत्री मोदी भारत को कम कार्बन वाले रिन्‍युएबल एनर्जी के भविष्‍य की ओर ले जाने के लिए बहुत ही मजबूती से सहयोग कर रहे हैं। एक सवाल के जवाब में किम ने कहा कि समिट में रखे जाने वाले बड़े प्रोजेक्‍ट्स में से एक भारत में सोलर के लिए अल्‍ट्रा मेगा प्रोजेक्‍ट भी है। 

 

अभी बहुत कुछ करना बाकी

किम ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने भारत की कार्बन इंटेंसिटी कम करने का एक बहुत ही महत्‍वाकांक्षी लक्ष्‍य निर्धारित किया है। विशेषत: सोलर और हाइड्रो के क्षेत्र में भारत अग्रणी है। मोदी के नेतृत्‍व में सोलर अलायंस भी अत्‍यधिक महत्‍वपूर्ण है। लेकिन अभी भी बहुत कुछ करना बाकी है और भारत सरकार इस बारे में जागरुक है। 

 

सोलर की घट रही कीमतें 

किम ने यह भी कहा कि भारत के बारे में दो बहुत ही प्रोत्‍साहित करने वाली बातें हैं। पहली, सोलर की कीमत घट रही है और बैटरी स्टोरेज की कीमत व साइज दोनों ही तेजी से उन्‍नत हो रहे हैं। सोलर के लिए अब तक की सबसे कम कीमत 1.7 सेंट किलोवाट प्रति घंटा मैक्सिको में दर्ज की गई। यह कई देशों के लिए कोयले की कीमत से आधे से भी कम है। इसी तरह बैटरी स्‍टोरेज टेक्‍नोलॉजी में भी हमने तेजी से प्रगति देखी है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट